शहरवासियों को सुविधाएं बेहतर व सुगमता से प्रदान करने के लिए निगम के आई.टी. विंग को किया जाऐगा सुदृढ़

फरीदाबाद, 16 अक्टूबर। फरीदाबाद नगर निगम की आयुक्त सोनल गोयल ने संपत्तिकर, वाटर व सीवरेज चार्जिज सहित अन्य सभी सेवाओं को ऑनलाईन करने की चल रही प्रक्रिया में तेजी लाने के निर्देश निगम के आई.टी. विंग को दिए हैं। निगम मुख्यालय स्थित अपने कार्यालय में आई.टी. विंग के अधिकारी व कर्मचारियों की एक बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि शहरवासियों को सुविधाएं बेहतर व सुगमता से प्रदान करने के लिए निगम के आई.टी. विंग को सुदृढ़ किया जाएगा जिसके लिए निगम के आई.टी. विंग में आई.टी. सलाहकार/अधिकारी को पदस्थ करने पर विचार किया जा रहा है। आज की इस बैठक में निग्मायुक्त के इलावा अतिरिक्त आयुक्त विक्रम, अधीक्षण अभियंता बीरेन्द्र कर्दम, कार्यकारी अभियंता रमन जागलान, क्षेत्रिय एवं कराधान अधिकारी (मु0) रतन लाल रोहिल्ला व आई.टी. विंग के प्रोग्रामर भी उपस्थित थे। निग्मायुक्त ने बैठक में उपस्थित कार्यकारी अभियंता (आई.टी.) रमन जागलान व क्षेत्रिय एवं कराधान अधिकारी (मु0) रतन लाल रोहिल्ला को यह कड़े निर्देश दिए कि संपत्ति कर की सेवाओं को ऑनलाईन करने की चल रही सभी प्रक्रियाओं को बिना किसी देरी के पूरा करवा करके इस सेवा को तुरंत ऑनलाईन किया जाए। उन्होंने पानी व सीवरेज चार्जिज सेवाओं को ऑनलाईन करने के लिए डाटा फीडिंग के चल रहे कार्य को भी आगामी 15-20 दिनों के अंदर-अंदर पूरा करके इसे शहरी स्थानीय निकाय विभाग निदेशालय के आई.टी. विंग को भेजने के आदेश अधीक्षण अभियंता बीरेन्द्र कर्दम को दिए। इन सभी कार्यों की प्रगति की समीक्षा संबंधित संयुक्त आयुक्तों के द्वारा नियमित तौर से और अतिरिक्त आयुक्त के द्वारा सप्ताह में एक बार की जाएगी।निग्मायुक्त ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि व्यापक जनहित और नगर निगम हित में किए जा रहे इन कार्यों में किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि इन सभी सेवाओं को ऑनलाईन किए जाने से न केवल शहरवासी लाभान्वित होंगे बल्कि इससे नगर निगम के राजस्व प्राप्ति में भी कई गुणा वृद्धि होगी। इसके साथ-साथ कराधान विभाग की कार्यप्रणाली में भी व्यापक पारदर्शिता आएगी और करदाताओं को अपने करों का भुगतान करने के लिए निगम कार्यालयों में भी चक्कर नंही काटने पड़ेंगे।सोनल गोयल ने निगम की वेबसाइट को नियमित तौर से अपडेट करने और निगम से संबंधित सभी प्रकार की सूचनाएं इस पर प्रदर्शित करने के निर्देश भी निगम की आई.टी. विंग को दिए, जिससे कि आम जनता को छोटी-छोटी जानकारी प्राप्त करने के लिए निगम कार्यालयों में न आना पड़े। उन्होंने कोर्ट केस मॉनिटरिंग सिस्टम, फाईल ट्रैकिंग सिस्टम अधिकारी व कर्मचारियों के सर्विस रिकार्ड सहित लेखा-शाखा की समस्त कार्यप्रणाली को भी हाईटैक करने के लिए तेजी से कार्य करने के निर्देश आई.टी. विंग को दिए।