3 अक्तूबर को निर्दलीय उम्मीदवार के रुप में पर्चा भरेंगे नयनपाल रावत

फरीदाबाद, 01 अक्तूबर । हरियाणा विधानसभा चुनावों को लेकर भाजपा द्वारा टिकट न दिए जाने से नाराज पूर्व भाजपा प्रत्याशी नयनपाल रावत ने मंगलवार को पृथला क्षेत्र से निर्दलीय चुनाव लडऩे की घोषणा की। रावत ने आज चंदावली स्थित अपने कार्यालय पर एक विशाल कार्यकर्ता सम्मेलन बुलाकर समाज के लोगों से विचार विमर्श किया और आखिरकार उन्होंने चुनावी रण में कूदने का ऐलान कर दिया। कार्यकर्ता सम्मेलन में मौजिज लोगों ने रावत को चुनाव लडऩे के लिए 2 करोड़ 84 लाख रुपये देने की घोषणा की। इस मौके पर उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए नयनपाल रावत ने कहा कि भाजपा पार्टी उनकी मां है, उन्होंने हमेशा मां की तरह पार्टी की सेवा की है और मां से भी गलती हो जाती है, जिसे सुधारने का वह मौका भी दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा में कुछ षडयंत्रकारी घुस आये हैं जिन्होंने उनकी टिकट कटवाने का काम किया है, आज जितनी भीड उनके कार्यकर्ता सम्मेलन में है उतनी भीड हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नामांकन में भी नहीं है जहां यूपी के मुख्यमंत्री योगी भी पहुंचे हुए हैं। उन्होंने कहा कि वह पिछले 15 सालों अपने परिवार सहित पृथला क्षेत्र की जनता की सेवा में निस्वार्थ भाव से कार्य कर रहे है, उनके सुख-दुख में अपनी भागेदारी निभा रहे है परंतु कुछ मौकापरस्त लोगों ने साम-दाम-दंड-भेद की नीति अपनाते हुए जनभावनाओं का अनादर करने का काम किया है परंतु आज इतनी बड़ी तादाद में पृथला क्षेत्र की सरदारी ने उन्हें शक्ति प्रदान की है, उससे उनकी हौंसले बुलंद है और उनके इस सहयोग के लिए वह सदैव उनके ऋणी रहेंगे। उन्होंने कार्यकर्ता सम्मेलन में आए हुए सभी लोगों से आह्वान किया कि जिस प्रकार उन्होंने 15 सालों से लोगों के हकों के लिए संघर्ष किया है, वह लोगों से सिर्फ 15 दिन मांगते है, 15 दिन वह स्वयं नयनपाल रावत बनकर इस चुनावी रण में उतर जाए और अपने भाई, अपने बेटे को भारी मतों से विजयी बनाकर चंडीगढ़ भेजने का काम करें। उन्होंने कहा कि वह भाजपा के सच्चे कार्यकर्ता है और उन्होंने निस्वार्थ भाव से पार्टी की सेवा की है, अगर जनता ने उन्हें विजयी बनाया तो वह पृथला क्षेत्र के लोगों के मान सम्मान में कोई कमी नहीं आने देंगे।