लूट के लिए लूटेरों ने पुलिस पर ही तान दी पिस्तौल

पलवल, 23 सितंबर। गैंग बनाकर लूटापाट व चोरी की वारदातों को अंजाम देने वाले गैंग के तीन आरोपियों को पुलिस ने रविवार को देर रात केएमपी से गिरफ्तार किया है। पुलिस के मौके पर पहुंचते ही एक आरोपी ने पुलिस गाड़ी के चालक पर पिस्तोल तान दी तथा दूसरा फरसा लेकर खड़ा हो गया। बिना किसी भय के आरोपियों ने कहा जो कुछ है निकाल दो, लेकिन जब गाड़ी में पुलिस नजर आई तो लुटेरे भौंचक्के रह गए, पुलिस ने कर्मियों ने तीनों को मौके से ही गिरफ्तार कर विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर पुछताछ शुरू कर दी है।
पुलिस प्रवक्ता मनजीत सिंह ने बताया कि रविवार को रात्री गश्त के दौरान पुलिस को जानकारी मिली की केएमपी पुल मिंडकोला गांव के निकट कुछ लुटेरे वाहन चालकों से लूटपाट कर रहे है। जिसके बाद पुलिस ने अपनी गाड़ी से बत्ती उतारी और मौके पर पहुंच गए। गाड़ी के मौके पर पहुंचते ही लूटेरों ने अपनी गाड़ी को पुलिस गाड़ी के आगे लगाकर रुकवा लिया। गाड़ी के रुकते ही एक लूटेरे ने पिस्तौल गाड़ी चालक पर तान दी और दूसरा फरसा लेकर खड़ा हो गया। लूटेरों ने पुलिसकर्मियों से कहा कि जो कुछ है निकाल दो नहीं तो जान से हाथ धोने पड़ेंगे। पुलिस कर्मी पहले से ही गाड़ी में सतर्क बैठे हुए थे, इतनी ही देर में पुलिसकर्मियों ने गाड़ी से उतरकर तीनों लूटेरों को काबू कर लिया तथा उनके कब्जे से एक कार, एक देशी पिस्तोल व एक फरसा बरामद किया। पुलिस पुछताछ में लूटेरों ने अपने नाम पता जिला नूंह के हंजनपुर गांव निवासी रफीक, रायपुर गांव निवासी जाहिद व जिला गुडगांव के पाडला शाहपुरी गांव निवासी सादिक बताए। पुलिस ने बताया कि उक्त आरोपी पहले भी लूट व चोरी की वारदातों में वांछिद है, ये सभी आरोपी गैंग बनाकर लूटापाट व चोरी की वारदातों को अंजाम देते है। आरोपी सादिक ने बताया कि उन्होंने लूटे के लिए प्रयोग की गाड़ी को उसने व रफीक ने कुछ दिन पूर्व झिरका फिरोजपुर से चोरी किया था। पुलिस ने लूटेरों के खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर आरोपियों से उनके अन्य साथियों के बारे में पुछताछ शुरू कर दी है। पुलिस का मानना है कि लूटेरों के गिरफ्तार होने से उनके गिरोह के अन्य सदस्यों के बारे में भी सख्ती से पुछताछ की जाएगी।