भाजपा ने टिकट नहीं तो भी चुनाव लडूंगा जरूर: सुभाष चौधरी

पलवल, 23 सितंबर। विधानसभा सीट पलवल से भाजपा की टिकट जनसमर्थन को देखते हुए उन्हें ही मिलेगी, जिसको लेकर उनकी पार्टी हाईकमान से लगातार वार्ता जारी है। उक्त बातें पूर्व विधायक सुभाष चौधरी ने रविवार को अपने निवास पर आयोजित पत्रकार वार्ता में कही।
चौधरी ने कहा कि भाजपा की टिकट पर वे चुनाव लड़ते है तो शत् प्रतिशत पलवल विधानसभा की सीट भाजपा के खाते में डालने का काम करेंगे। उन्होंने कहा कि यदि भाजपा ने किसी कारण के चलते उन्हें टिकट नहीं दी तो भी वे विधानसभा का चुनाव अवश्य लड़ेंगे, लेकिन उनकी पहली प्राथमिका भाजपा पार्टी ही है। पलवल से पूर्व विधायक सुभाष चौधरी ने कहा कि पलवल विधानसभा सीट को लेकर भाजपा ने जो सर्वे करवाए है उसमें लोगों ने भाजपा पार्टी से सुभाष चौधरी को चुनाव लड़ाने का अपार समर्थन दिया है। स्थानीय लोगों का मानना है कि पूर्वमंत्री एवं पलवल से कांग्रेस के विधायक करण सिहं दलाल को केवल सुभाष चौधरी ही हरा सकते है। चौधरी ने कहा कि 2014 के विधानसभा चुनावों में प्रदेश में भाजपा की लहर थी, उसके बावजूद भी पलवल से भाजपा के प्रत्याशी दीपक मंगला सीट को नहीं निकाल सके, जबकि उस समय उनकी छवि स्वच्छ थी, क्योंकि पहली बार चुनाव लड़ा था। लेकिन अब उन्हें भाजपा ने इतने ऊंचे पद पर बिठा दिया और उसके बाद भी वे अपना 2014 वाला जनाधार भी नहीं बचा पाए, दीपक मंगला का जनाधार लगातार गिरता जा रहा है। उन्होंने कहा कि राजनैतिक समीकरणों को ध्यान में रखते हुए भाजपा को सही निर्णय लेना चाहिए। भाजपा पार्टी की टिकट को लेकर आखरी वक्त तक इंतजार करेंगे यदि पार्टी ने सही निर्णय नहीं लिया तो किसी भी राजनैतिक दल से या फिर आजाद उम्मीदवार के तौर पर वे चार अक्टूबर को अपना नामांकन करेंगे। इसके लिए रविवार को सुबह उनके निवास पर हुई 36 बिरादरी की बैठक में लिया गया। जिसमें चुनाव संबंधी तैयारियों को लेकर एक 51 सदस्यों की कमेटी का भी गठन किया गया।