नशीला पदार्थ पिलाकर किया विवाहिता से दुष्कर्म

पलवल, 16 सितंबर। महिला को रुपए देने के बहाने घर से बुलाकर कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ पिला दिया और बेहोश होने पर उसके साथ दुष्कर्म किया। पीडि़त को होश आने पर आरोपी ने इस बारे में किसी को बताने पर उसे व उसके परिवार को जान से मारने की धमकी दी। पीडि़ता की शिकायत पर जिला महिला थाना पुलिस ने आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म सहित विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है।
जिला महिला थाना की जांच अधिकारी अमलेश ने बताया कि एक 38 वर्षीय महिला ने शिकायत दर्ज कराई है कि उसने संजय ठेकेदार के साथ मिलकर सडक़ का काम किया था। संजय की जानकारी घोड़ी गांव निवासी नंदा गौरी से थी। नंदा गौरी ने कुछ रुपए संजय से उधार लिए थे और तय हुआ कि तीन लाख 12 हजार रुपए नंदा पीडि़ता को दे देगा। नंदा ने इस रकम में से केवल 6 हजार रुपए पीडि़ता को दिए बाकी रुपयों के लिए तीन-चार माह से टाल रहा था। पीडि़ता का आरोप है कि दो सिंतबर को नंदा ने पीडि़ता को फोन कर बुलाया और कहा कि बल्लभगढ़ बीडीपीओ कार्यालय चलना है, जहां वह रुपए निकलवा कर उसे दे देगा। जिसके बाद पीडि़ता नंदा के बुलाए स्थान पर पहुंच गई और नंदा वहां से पीडि़ता को बल्लभगढ़ स्थित एक निजी होटल में ले गया। पीडि़ता का आरोप है कि होटल में आरोपी नंदा ने उसे कोल्ड ड्रिंक पिलाई। कोल्ड ड्रिंक पीते ही पीडि़ता बेहोश हो गई और बेहोशी की हालात में नंदा ने उसके साथ दुष्कर्म किया। पीडि़ता का कहना है कि करीब दो घंटे बाद जब पीडि़ता को होश आया तो उसने अपने आप को नंगन अवस्था में पाया और नंदा वहीं मौजूद था। पीडि़ता ने जब होश में आने के बाद इसका विरोध किया तो नंदा ने उसे व उसके परिवार को जान से मारने की धमकी देते हुए कहा कि यदि इस बारे में किसी को बताया तो तेरे व तेरे परिवार के लिए अच्छा नहीं होगा। उसके बाद पांच सिंतबर को नंदा ने पीडि़ता को फोन कर 20 हजार रुपए देने के बहाने बुलाया। पीडि़ता जब नंदा के पास रुपए लेने पहुंची तो वह उसे खेतों में ले गया और ज्वार के खेत में ले जाकर दुष्कर्म किया। इसके बाद आठ सितंबर को नंदा ने फिर पीडि़ता के पास मोबाइल पर फोन किया, लेकिन इस बार पीडि़ता के फोन को उसके पति ने उठा लिया। जिसके बाद पति द्वारा पूछने पर पीडि़ता ने आपबीती बताई और मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने पीडि़ता की शिकायत के आधार पर आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है।