स्वच्छता पखवाडा नुक्कड़ नाटक से स्व‘छता बारे जागरूकता अभियान

फरीदाबाद, 9 सितंबर। राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सराय ख्वाजा में आज कानूनी शिक्षा प्रकोष्ठ ने जूनियर रेड क्रॉस और सेंट जॉन एम्बुलेंस ब्रिगेड के सौजन्य से प्राचार्या श्रीमती नीलम कौशिक की अध्यक्षता में अंग्रेजी प्रवक्ता, कानूनी शिक्षा प्रकोष्ठ, सेंट जॉन एम्बुलेंस ब्रिगेड तथा जूनियर रेड क्रॉस प्रभारी रविन्दर कुमार मनचन्दा द्वारा स्व‘छता पखवाड़े में नुक्कड़ नाटक के माध्यम से स्व‘छता बारे जागरूक किया गया । जिला विधिक प्राधिकरण के निर्देशानुसार प्रत्येक माह कानूनी शिक्षा से संबंधित गतिविधियां संचालित की जाती हैं। नुक्कड़ नाटक की जानकारी देते हुए रविन्दर कुमार मनचन्दा ने बताया कि स्व‘छता हमारे जीवन में बहुत मायने रखती है क्योंकि ऐसा करने से बीमारियां दूर रहती हैं और हमारा स्वास्थ्य बेहतर रहता है। यह कहते भी हैं कि स्व‘छता ईश्वर का दूसरा रूप है, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के स्व‘छ भारत – स्वस्थ भारत अभियान की सफलता सुनिश्चित करना सभी का परम दायित्व है, विद्यालयों और महाविद्यालयों में शिक्षा ग्रहण कर रहा युवा वर्ग इस अभियान को सशक्त तरीके से अंजाम देकर स्मार्ट सिटी की अवधारणा को बहुत जल्द साकार कर सकता है। ब्रिगेड अधिकारी रविन्दर कुमार मनचन्दा ने कहा कि शहरों और महानगरों में बढ़ते कचरे और प्रदूषण के कारण आम व्यक्ति तरह तरह की जानलेवा बीमारियों जैसे कैंसर, दिल की बीमारी, स्ट्रोक, श्वास संबंधी बीमारियों से ग्रस्त हो रहे है, कूढ़ा करकट जलाने से भी विषैली गेसें उत्सर्जित होती है इसलिए ब‘चों ने वेस्ट और सूखा कचरा ना जलाने की अपील करते हुए एक नुक्कड़ नाटक द्वारा प्रदूषण के भयावह परिणामों को दर्शाया, ब‘चों ने बताया कि किस तरह से लगातार प्रदूषित व विषैली वायु के सम्पर्क में रहने से स्वास्थ्य पर कितना घातक प्रभाव पड़ता है और व्यक्ति की मृत्यु तक हो जाती है। ब‘चों ने सभी से आगाह किया कि हम सब गीला कचरा कम्पोस्ट खाद बनाने में खपाएं, इस से कचरे से सडऩे व प्रदूषित वायु से निजात मिलेगी। नुक्कड़ नाटक कर रहे विशाल कुमार, गौरव, स्वाति कश्यप, सपना कुमारी, अनीशा, दिव्या, नंदिनी, अंजलि, पूर्णिमा और मोनिका ने बताया गया कि साफ सफाई का विशेष ध्यान रखना होगा और कूड़ा करकट व विशेष तौर से सूखे पत्तों को जलाने से बाज आना होगा। इस अवसर पर आज जूनियर रेड क्रॉस के ब‘चों ने स्कूल के बगीचे और क्यारियों में साफ सफाई की। मनचन्दा ने कहा कि पत्तों को जमीन के अंदर खड्डे में दबाने से और साफ सफाई व कपड़ों के धोने के बाद वाले पानी को डालने से कम्पोस्ट खाद बना कर सूखे पत्तों का उचित प्रबंधन आसानी से किया जा सकता है, उन्होंने जोर देकर कहा की साफ सफाई को हमें अपनी आदत बाना होगा। प्राचार्या नीलम कौशिक और अंग्रेजी प्रवक्ता रविन्दर कुमार मनचन्दा ने नुक्कड़ नाटक द्वारा स्व‘छता अभियान में बढ़ चढ़ कर अभिनय द्वारा संदेश देने वाले ब‘चों की हौसलाअफजाई की।