सविंधान ही हमें आजाद देश के आज़ाद नागरिक होने की भावना का एहसास कराता है : जयकिशन छिल्लर

– जिला जेल फरीदाबाद में मनाया गया संविधान दिवस फरीदाबाद, 26 नवंबर। जिला जेल फरीदाबाद में आज शनिवार को सविंधान दिवस को बड़े धूमधाम से मनाया गया। प्रातः जिला जेल फरीदाबाद व सीमा सुरक्षा बल के संयुक्त तत्वाधान में संविधान  दिवस के अवसर पर श्री जयकिषन छिल्लर अधीक्षक जेल की अगुवाई में जेल के अधिकारियों/ कर्मचारियों को सविंधान दिवस की शपथ दिलाई गई। श्री जयकिशन छिल्लर ने जेल के सभी अधिकारियों/सीमा सुरक्षा बल के जवानों को संबोधित करते हुए कहा कि आज हम सभी यहां संविधान दिवस मनाने को एकत्रित हुए हैं। हर साल 26 नवंबर का दिन भारत में संविधान दिवस के तौर पर मनाया जाता है। 26 नवंबर 1949 को देश की संविधान सभा ने मौजूदा संविधान को अपनाया था। इसलिये इसी दिन की याद में हर साल देश में संविधान दिवस मनाया जाता है। संविधान तैयार करने में 2 वर्ष, 11 माह 18 दिन लगे थे। यह 26 नवंबर 1949 को पूरा हुआ और इसे अपनाया गया। इसके बाद 26 जनवरी, 1950 को संविधान लागू हुआ। इस दिन का मकसद देश के नागरिकों में संवैधानिक मूल्यों के प्रति सम्मान की भावना को बढ़ाना है। हर भारतीय नागरिक के लिये 26 नवबंर संविधान दिवस बेहद गर्व का दिन है। कोई भी देश बिना संविधान के नहीं चल सकता। संविधान में ही देश के सिद्धांत और उसको चलाने के तौर तरीके होते हैं। यह संविधान ही है जो हमें एक आजाद देश का आजाद नागरिक की भावना का एहसास कराता है। जहां संविधान के दिए मौलिक अधिकार हमारा ढाल बनकर हमें हमारा हक दिलाते हेैं, वहीं इसमें दिए मौलिक कर्तव्य हमें हमारी जिम्मेदारियां भी याद दिलाते हैं। इस संविधान दिवस पर हमें जीवन भर अपने मौलिक कर्तव्य और देश का कानून का पालन करने का प्रण लेना चाहिये। देश का अच्छा और जिम्मेदार नागरिक बनने से न सिर्फ संविधान का मकसद पूरा होगा बल्कि संविधान निर्माताओं के सपनों के राष्ट्र का निर्माण होगा। जिला जेल फरीदाबाद के बन्दियों द्वारा भी संविधान दिवस को पूरे उत्साह व उमंग से मनाया गया। जेल में सभी बन्दियों ने अपनी अपनी बैरक के आंगन में खड़े करके जेल रेडियो के माध्यम से श्री जयकिषन छिल्लर अधीक्षक जेल द्वारा संविधान दिवस की शपथ दिलवाई गई व जेल में जेल रेडियों के माध्यम से देषभक्ति से ओतप्रोत गीतों को सुनाया गया।  जेल में देष भक्ति से ओतप्रोत सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये गये। इस अवसर पर श्री जयकिशन छिल्लर अधीक्षक जेल, श्री सुमित पंवार उप-अधीक्षक, श्री नवीन छिल्लर उप-अधीक्षक व जेल स्टाफ के अन्य अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।