सीपी विकास अरोड़ा और डीसी विक्रम सिंह ने किया कोट गांव के बूथ का निरीक्षण

– सीपी व डीसी ने बूथों पर जाकर ग्रामीणों को समझाया

– कहा, पंचायत चुनावों के मतदान पर्व को भाईचारे की भावना मनाएं

फरीदाबाद। सीपी विकास अरोड़ा और डीसी विक्रम सिंह ने किया कोट गांव के बूथ का निरीक्षण किया। सीपी व डीसी ने बूथों पर जाकर ग्रामीणों को समझाते हुए कहा कि पंचायत चुनावों के मतदान पर्व को भाईचारे की भावना मनाएं।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि निर्धारित तिथियों को मतदान की प्रक्रिया सुबह सात बजे से शुरू होगी और शाम छह बजे तक जारी रहेगी। पंचायती राज संस्थाओं के लिए हो रहे चुनाव में ज्यादा से ज्यादा मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करें। बिना किसी डर और दबाव के अपनी इच्छा से वोट डालना चाहिए। चुनाव में ज्यादा से ज्यादा मतदाताओं की भागीदारी से ही प्रजातंत्र मजबूत होगा। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन निष्पक्ष व स्वतंत्र मतदान कराने के लिए प्रतिबद्ध है। सभी मतदान केंद्रों पर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए जाएंगे।

जिला निर्वाचन अधिकारी विक्रम सिंह ने कहा कि चुनाव के लिए जारी कार्यक्रम के अनुसार 22 नवम्बर को पंचायत समिति सदस्यों व जिला परिषद सदस्यों के लिए तथा 24 नवंबर को सरपंच और पंच पद के लिए मतदान होगा। मतदान का समय सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक होगा। यदि किसी जिला परिषद सदस्य व पंचायत समिति सदस्य के लिए दोबारा मतदान (रि-पोल) होता है तो वह 25 नवंबर को करवाया जाएगा। इसी तरह किसी सरपंच व पंच पद के लिए दोबारा मतदान (रि-पोल) होता है तो वह 27 नवंबर को होगा। सरपंच व पंच पद के नतीजे उसी दिन चुनाव के बाद घोषित कर दिए जाएंगे। जबकि जिला परिषद सदस्यों व पंचायत समिति सदस्यों के नतीजे भी 27 नवम्बर को ही घोषित किए जाएंगे।

डीसी ने कहा यह होगी चुनाव खर्च की सीमा

वहीं चुनाव में पंच पद का उम्मीदवार अधिकतम 50 हजार रुपये, सरपंच पद का उम्मीदवार अधिकतम 2 लाख रुपये, पंचायत समिति सदस्य का उम्मीदवार अधिकतम 3 लाख 60 हजार रुपये तथा  जिला परिषद सदस्य का उम्मीदवार अधिकतम 6 लाख रुपये चुनाव खर्च कर सकता है।

जिला निर्वाचन अधिकारी विक्रम सिंह ने कहा कि प्रजातांत्रिक प्रणाली मजबूत करने के लिए पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव में ज्यादा से ज्यादा मतदाता भागीदार बनें।

जिला निर्वाचन अधिकारी पंचायत कम डीसी ने कहा कि सभी प्रत्याशियों को नाम के क्रम अनुसार चुनाव चिन्ह अलॉट कर दिए गए हैं।