तिरंगे की लाज बचाने को फिर आतंकवादियों से लोहा लेते हुए तीन जवानों ने दी शहादत।


जम्मू कश्मीर: बी डी कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश न्यूज नेटवर्क।
सेना के प्रवक्ता ने सूचना देते हुये बताया कि राजौरी से 25 किलोमीटर दूर एक आतंकी हमले में दो आतंकियों ने सेना की एक कंपनी की ऑपरेटिंग बेस पर आत्मघाती हमला किया। दोनों आतंकवादी मारे गए हैं, जबकि इसमें 3 जवान शहीद हो गए। अभी ऑपरेशन जारी है:
*आतंकवादी हमले में घायल सेना के जवानों में एक अधिकारी भी शामिल हैं और उन्हें इलाज के लिए भेजा गया है। 16 कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल मनजिंदर सिंह लगातार जमीनी हालात पर नजर बनाए हुए हैं: भारतीय सेना के अधिकारी*
सूबेदार राजेंद्र प्रसाद, राइफलमैन मनोज कुमार और राइफलमैन लक्ष्मणन डी. ने राजौरी से 25 किलोमीटर दूर सेना की एक कंपनी पर आत्मघाती हमला करने वाले दो आतंकवादियों को बेअसर करते हुए अपनी शहादत दी।