दीपक तले अंधेरा,भाजपा सरकार को और कितने सबूत चाहिएं भ्रष्टाचार के।

फरीदाबाद।  बी डी कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश न्यूज नेटवर्क।

200 करोड़ का नगर निगम घोटाला,पेरी फेरी घोटाला,नीमका पंचायत का 24 करोड़ का घोटाला,मुझेडी पंचायत घोटाला 22 करोड़।एस एस बी परीक्षा घोटाला,और अब ये फार्मेसी घोटाला। आखिर भाजपा सरकार को और कितने घोटाले चाहिए।अगर ढंग से जांच हो तो फरीदाबाद नगर निगम मे और भी कई घोटाले उजागर हो सकते हैं।कुछ विधायकों के रिश्तेदारों को नियम ताक पर रखकर नगर निगम में ठेके दिए गये हैं उनकी भी जांच होनी चाहिए।एक सतारुढ विधायक की इंटरलाक टाईल की फैक्ट्री है उप पर भी नजर मार लें तो घालमेल सामने आ जायेगा। और कहां कहां देखा जाये।पूरा फरीदाबाद स्मार्ट सिटी के नाम पर खोदकर डाल दिया गया है कोई काम पूरा नहीं हुआ।जिस कंपनी को निर्माण कार्यों का ठेका दिया गया था उसने और आगे स्तरहीन और अनपढ़ लोगों को ठेके दे दिये जिनके ना माल में गुणवत्ता है ना तकनीकी दक्षता।बनायी गयी सड़कों पर जगह जगह गढ्ढे हैं जिनमें बरसात में में पानी ठहर जाता है सड़कें जगह जगह से टूटने भी लग गयी हैं ये सब भ्रष्टाचार का ही नतीजा है नहीं तो इससे संबंधित अधिकारी और जन प्रतिनिधि इन कमियों पर आवाज क्यूं नहीं उठाते। आदरणीय मुख्यमंत्री जी ये सब आपकी सरकार और आपके प्रशासन की जिम्मेदारी है जनता चाहती है कि भ्रष्टाचार पर आप स्वयं संज्ञान लें नही तो भास्कर जैसे नौकरशाह और धनेश अदलखा जैसे नेता पक्का आपकी लुटिया डूबो देंगे।