महाराष्ट्र सरकार का फार्मूला तय,शिंदे गुट को आठ कैबिनेट और पांच राज्य मंत्री पद का आफर।

नई  दिल्ली।बी डी कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश न्यूज नेटवर्क।     

शिंदे और BJP के बीच सरकार बनाने के फॉर्मूले पर मंथन, चर्चा के बाद फडणवीस दिल्ली रवाना महाराष्ट्र की सियासत में बड़ी खबर सामने आ रही है। सूत्रों के मुताबिक, शिंदे गुट और भाजपा के बीच सरकार बनाने पर मंथन चल रहा है। सूत्रों के मुताबिक, शिंदे और फडणवीस के बीच सरकार बनाने का फॉर्मूला भी तय हुआ है। इसके तुरंत बाद राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस चार्टर्ड प्लेन से दिल्ली रवाना हो गए। चर्चा यह भी है कि शिवसेना के बागी गुट के नेता एकनाथ शिंदे भी दिल्ली जा सकते हैं।
इससे पहले, भाजपा और शिंदे के बीच हुई चर्चा में भाजपा ने शिंदे गुट को 8 कैबिनेट और 5 राज्य मंत्रियों का ऑफर दिया है। सूत्रों के मुताबिक, डिप्टी CM के लिए एकनाथ शिंदे का नाम रखा गया है। गुलाबराव पाटिल, संभुराज देशाई, संजय शिरसाट, दीपक केसरकर, उदय सामंत को मंत्री बनाया जा सकता है। सियासी संकट के 3 बड़े अपडेट्स…
MVA सरकार ने आज दोपहर ढाई बजे राज्य मंत्रियों की कैबिनेट बैठक बुलाई है। इसमें CM ठाकरे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जुड़ेंगे।
शिंदे ने आज दोपहर 12 बजे बागी विधायकों की बैठक बुलाई है। इसमें आगे की रणनीति पर चर्चा होगी।
शिवसेना मंत्री सुभाष देसाई ने शिंदे और बागी विधायकों को धमकी दी है। देसाई ने कहा- अगर बागी विधायक मुंबई एयरपोर्ट आए, तो उन्हें वहां से बाहर निकलने नहीं दिया जाएगा।
सामना में लिखा- BJP ने महाराष्ट्र के तीन टुकड़े करने की साजिश रची महाराष्ट्र के जारी सियासी संकट के बीच शिवसेना के मुखपत्र सामना में मंगलवार को BJP और बागी विधायकों पर निशाना साधा गया। शिवसेना ने लिखा- दिल्ली में बैठे भाजपाई नेताओं ने महाराष्ट्र को तीन टुकड़ों में बांटने की खतरनाक साजिश रची। इसमें लिखा- सरकार के पक्ष में खड़े लोगों को ED की फांस में फंसाकर आवाज दबाने की कोशिश की जा रही है। महाराष्ट्र के सियासी पटल पर यह खेल कब तक चलेगा? महाराष्ट्र के टुकड़े करने वालों के हम टुकड़े कर देंगे।संजय राउत ने बागी विधायकों को चलती फिरती लाशें बताया संजय राउत ने ट्वीट कर बागी विधायकों व भाजपा पर निशाना साधा है। ट्विटर हैंडल पर बागी विधायकों का बिना नाम लेते हुए लिखा, ‘जहालत’ एक किस्म की मौत है, और जाहिल लोग चलती फिरती लाशें हैं।
इससे पहले भी संजय राउत ने बागी विधायकों को ‘जिंदा लाश’ कहकर संबोधित किया था। उन्होंने कहा था, गुवाहाटी में वो 40 लोग जिंदा लाश हैं, उनकी आत्मा मर चुकी है। उनके इस बयान पर काफी हंगामा हुआ था।
सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को एकनाथ शिंदे की याचिका पर सुनवाई हुई। याचिका में बागी विधायकों को अयोग्य ठहराए जाने और डिप्टी स्पीकर नरहरि जरवाल की भूमिका पर सवाल उठाए गए थे। कोर्ट अब इस मामले में 11 जुलाई को सुनवाई करेगा। यह शिंदे गुट के लिए राहत भरा रहा। सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र भवन, डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस, शिवसेना विधायक दल के नेता अजय चौधरी और केंद्र को भी नोटिस भेजा है। कोर्ट ने सभी विधायकों को सुरक्षा मुहैया कराने और यथा स्थिति बरकरार रखने का आदेश दिया है। शिंदे समर्थकों ने की आतिशबाजी कोर्ट के निर्देश के बाद शिंदे समर्थकों ने आतिशबाजी की। वहीं बागी गुट ने उद्धव ठाकरे से इस्तीफा भी मांगा है। शिंदे के साथ मौजूद दीपक केसरकर ने कहा कि उद्धव की सरकार राज्य में कानून-व्यवस्था बना पाने में नाकाम रही है। लिहाजा उसे इस्तीफा दे देना चाहिए।