हरियाणा सरकार की मुख्य गतिविधियां एवं उनसे जुड़े समाचार पढ़िए मातृभूमि संदेश न्यूज नेटवर्क पर।

पंचकूला में 270.54 करोड़ रूपये की लागत से 250 बिस्तरों वाले आईपीडी राष्ट्रीय आयुर्वेद और योग व प्राकृतिक चिकित्सा संस्थान की होगी स्थापना- आयुष मंत्री अनिल विज
इसमें आयुर्वेदिक उपचार, शिक्षा और अनुसंधान पर भी कार्य किया जाएगा- विज
चण्डीगढ़, 15 जनवरी- बी डी कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश न्यूज नेटवर्क।
हरियाणा के आयुष मंत्री श्री अनिल विज ने कहा कि 270.54 करोड़ रूपये की लागत से पंचकुला में 250 बिस्तरों वाले आईपीडी राष्ट्रीय आयुर्वेद और योग व प्राकृतिक चिकित्सा संस्थान की स्थापना की जाएगी जिसमें 100 आयुर्वेद और 150 प्राकृतिक चिकित्सा के बेड होंगे। इस संस्थान में यूजी, पीजी और पीएचडी की डिग्री के लिए हर वर्ष 500 छात्रों को शिक्षा दी जाएगी और इसमें आयुर्वेदिक उपचार, शिक्षा और अनुसंधान पर भी कार्य किया जाएगा।
श्री विज ने कहा कि यह आयुर्वेद संस्थान अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स दिल्ली) के समान पूरी तरह से केंद्र सरकार के स्वामित्व वाली और ऑपरेटिव संस्था होने की अपेक्षा रखता है।
आयुष मंत्री ने कहा कि श्री माता मनसा देवी श्राइन बोर्ड, पंचकूला की 19.87 एकड़ भूमि आयुष मंत्रालय, भारत सरकार, नई दिल्ली को 27 अप्रैल 2017 को पट्टे पर प्रदान की गई थी लेकिन उस समय इसमें कुछ खसरा नम्बर रह गए थे जो गत दिवस 13 जनवरी, 2022 को पूर्ण हो गए है और अब आयुष मंत्रालय, भारत सरकार को 19.87 एकड़ जमीन लीज पर देने का कार्य पूर्ण हो गया है।
उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान 270.54 करोड़ रूपये की लागत से बनकर तैयार होगा। जिसमें अस्पताल और कॉलेज भवन, स्नातक, स्नातकोत्तर और अंतर्राष्ट्रीय छात्रों के लिए छात्रावास, आवासीय भवन होगे। इसी प्रकार, अतिथि गृह, निदेशक का गृह भवन, सभागार भवन और अस्पताल भवन के नीचे वाणिज्यिक परिसर और बेसमेंट भी होगे।
श्री विज ने बताया कि वाप्कोस को इस परियोजना के लिए मैनेजमेंट कंसलटेंट नियुक्त किया गया है। वाप्कोस के अनुसार इस परियोजना का कांसेप्ट लेआउट प्लान, मास्टर लेआउट प्लान, विस्तृत परियोजना रिपोर्ट, अनुमानित लागत की रिपोर्ट तैयार कर ली गयी है। इस परियोजना का कार्य भी आवंटित कर दिया गया है और परियोजना पर कार्य शुरू भी हो चुका है।

चंडीगढ़,14 जनवरी – हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने लकडिय़ा (झज्जर) निवासी श्री रामचन्द्र अहलावत को 76 साल की आयु में योग में स्वर्ण पदक जीतने पर हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं दी हैं। श्री अहलावत ने 50 प्लस आयु वर्ग में पुडुचेरी में आयोजित अंतरराष्ट्रीय योग फेस्टिवल में प्रथम स्थान हासिल किया है।
श्री दत्तात्रेय ने आज दूरभाष के माध्यम से श्री रामचन्द्र अहलावत का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि योग बीमारियों को दूर करता है और व्यक्ति की इच्छा शक्ति मजबूत करता है तथा स्फूर्तिवान तथा ऊर्जावान बनाता है। उन्होंने श्री रामचन्द्र को योग का प्रचार एवं प्रसार करने की सलाह दी ताकि सभी लोग योग करें और स्वस्थ रहे।
उन्होंने कहा कि श्री अहलावत का योग में स्वर्ण पदक जीतना प्रदेशवासियों के लिए गर्व की बात है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने भारतीय योग पद्घति को आगे बढ़ाने के उद्देश्य से 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस घोषित करवाया। उन्होंने कहा है कि देश और प्रदेश में योग को निरंतर बढ़ावा मिल रहा है। यह देशवासियों के लिए गर्व की बात है।

चंडीगढ़, 14 जनवरी – हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने प्रदेशवासियों को मकर संक्रांति की शुभकामनाएं देते हुए उनके बेहतर स्वास्थ्य और समृद्धि की कामना की है।
उन्होंने कहा कि मकर संक्रांति का पर्व हरियाणा में यह पर्व बड़े हर्षोल्लास से मनाया जाता है।
उन्होंने कहा है कि मकर संक्रांति का पर्व तमिलनाडु में पोंगल, गुजरात में उत्तरायण, आसाम सहित उत्तर-पूर्व में बिहु के रूप मे मनाया जाता है इसलिए यह त्यौहार भारत की अनेकता में एकता को प्रमाणित करता है। भारतीय त्यौहार देश की सभ्यता व संस्कृति के प्रतीक हैं।

जहां बारिश से ज्यादा नुकसान, वहां होगी स्पेशल गिरदावरी – मुख्यमंत्री
चंडीगढ़, 14 जनवरी – मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश में जिन स्थानों पर बहुत ज्यादा बारिश होने से फसलों में नुकसान हुआ है, वहां स्पेशल गिरदावरी करवाकर किसानों को मुआवजा दिया जाएगा। मुख्यमंत्री शुक्रवार को यमुनानगर में एक कार्यक्रम के दौरान पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे।
गौरतलब है कि बीते दिनों प्रदेशभर में बारिश हुई थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बरसात में फसलों को लाभ ज्यादा हुआ है, नुकसान कम हुआ है लेकिन फिर भी यदि किसी स्थान पर ज्यादा बारिश हुई है और नुकसान हुआ है, वहां गिरदावरी करवाकर मुआवजा दिया जाएगा। किसानों के नुकसान की भरपाई की जाएगी।

गुरुकुल शिक्षा हमें बनाती है संस्कारवान – मुख्यमंत्री
मुख्यमंत्री ने सम्राट मिहिर भोज गुरूकुल विद्यापीठ को दी 1 करोड़ रुपये की ग्रांट
चंडीगढ़, 14 जनवरी – हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि गुरुकुल प्राचीन पद्घति है, जहां अपनी शिक्षा ग्रहण करने के बाद विद्यार्थी गुरु को दक्षिणा देते हैं और गुरुकुलों में आज भी श्रद्घा का भाव कायम है। गुरुकुल शिक्षा के साथ सारा समाज व संसार जुड़ा है, जो हमें संस्कारवान बनाती है। हर समस्या का हल संस्कारों से है। मुख्यमंत्री ने लोगों का आह्वान किया कि गलत कार्यों को रोकने के लिए भाईचारा कायम रखें तथा देश व समाज की रक्षा करें। मुख्यमंत्री शुक्रवार को यमुनानगर के जगाधरी में सम्राट मिहिर भोज गुरूकुल विद्यापीठ के शिलान्यास समारोह में बोल रहे थे। इस दौरान हरियाणा के शिक्षा मंत्री श्री कंवर पाल व सांसद श्री रतन लाल कटारिया भी मौजूद रहे।
मुख्यमंत्री ने पहले प्रदेश की जनता को मकर सक्रांति, बिहू और पोंगल की बधाई दी। उन्होंने कहा कि राजा मिहिर भोज ने देश की संस्कृति की रक्षा के लिए महान कार्य किए। उनके नाम पर संस्कार युक्त शिक्षण संस्थाओं को खोलना एक विशेष महत्वपूर्ण कार्य है। यह संस्थाएं युवाओं को संस्कार बनाती है। हरियाणा सरकार ने महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए नैतिक शिक्षा, ग्रंथों की शिक्षा व गीता श्लोको को प्रदेश के शैक्षणिक पाठ्यक्रम में शामिल किए जाने का काम किया है।
मुख्यमंत्री ने गुरुकुल शिक्षण संस्थान को 1 करोड़ रुपये की मैचिंग ग्रांट, 51 लाख रुपये की सरकारी सहायता तथा अपने ऐच्छिक कोष से 2 लाख रुपये देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि महापुरुष सभी के सांझे होते हैं और इस गुरुकुल में सभी धर्मों, जातियों व वर्गों के विद्यार्थी पढ़ाई करेंगे। इसमें कक्षा 6 से 12वीं तक की पढ़ाई होगी और यह गुरुकुल लडक़ों के लिए होगा। प्राचीन शिक्षा पद्घति के अलावा यहां पर शिक्षा ग्रहण करने वाले विद्यार्थी सीबीएसई पैटर्न की तर्ज पर पढ़ाई कर सकेंगे।
इस दौरान शिक्षा मंत्री श्री कंवरपाल ने गुरुकुल को 31 लाख रुपये, सांसद रतन लाल कटारिया ने 11 लाख रुपये देने की घोषणा की। कार्यक्रम में यमुनानगर के विधायक घनश्याम दास अरोड़ा, फरीदाबाद के विधायक राजेश नागर, हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के अध्यक्ष भोपाल सिंह खदरी मौजूद रहे।


चंडीगढ़, 14 जनवरी – हरियाणा सरकार ने कोविड-19 महामारी के फैलाव के मद्देनजर निर्णय लिया है कि गणतंत्र दिवस समारोह 2022 के अवसर पर स्वतंत्रता सेनानियों को जिला पदाधिकारियों द्वारा उनके आवास पर जाकर सम्मानित किया जाएगा।
इस संबंध में मुख्य सचिव कार्यालय से गणतंत्र दिवस समारोह 2022 के आयोजन के संबंध में सभी मण्डलायुक्तों, जिला उपायुक्तों तथा उप-मण्डल अधिकारी (नागरिक) को दिशा-निर्देश जारी किये हैं।
जारी निर्देशानुसार कोविड-19 महामारी के फैलाव के मद्देनजर, गणतंत्र दिवस समारोह के लिए विभिन्न कार्यक्रमों या गतिविधियों का आयोजन करते समय कुछ निवारक उपायों का पालन करना आवश्यक है जैसे सामाजिक दूरी बनाए रखना, मास्क पहनना, समुचित सेनेटाईजेशन रखना, उचित स्वच्छता, बडी सभाओं से बचना, कमजोर व्यक्तियों का बचाव करना तथा गृह मंत्रालय और स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी कोविड-19 से संबंधित सभी दिशा-निर्देशों और स्टेण्डर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (एस0ओ0पी) का पालन करना आदि शामिल हैं ।
यह भी निर्देश दिये गये हैं कि सभी कार्यक्रमों को इस तरह से आयोजित किया जाना चाहिए कि लोगों को बड़ी सभाओं से बचाया जा सके और प्रौद्योगिकी का उपयुक्त इस्तेमाल करके इस राष्ट्रीय पर्व को मनाया जाये। आयोजित कार्यक्रम बड़े पैमाने पर उन लोगों को जो भाग लेने में सक्षम नहीं है उन तक पहुंचने के लिए वेब-कास्ट किये जा सकते हैं। इसके अतिरिक्त कोई पी0टी0 शो नही होगा। कमजोर व्यक्तियों, 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को इन गतिविधियों से दूर रखा जाए। मार्च पास्ट में गृह मंत्रालय एवं हरियाणा राज्य द्वारा जारी किए कोविड-19 से संबंधित सभी दिशा-निर्देशों का पालन करें। इसके अतिरिक्त आपदा प्रबन्धन विभाग , हरियाणा द्वारा समय-समय पर जारी दिशा-निर्देशों की भी पालना की जाए ।
निर्देशों में यह भी स्पष्ट किया गया है कि 26 जनवरी , 2022 को गणतंत्र दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने बारे गृह मंत्रालय, भारत सरकार, नई दिल्ली से कोरोना महामारी कोविड-19 के मद्देनजर जारी होने वाले दिशा-निर्देशों की पालना की जाए ।

ब्रिगेडियर लखविंदर के आश्रितों को मिलेगी 50 लाख की सहायता राशि – मुख्यमंत्री
एक आश्रित को मिलेगी सरकारी नौकरी
चंडीगढ़, 14 जनवरी – मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि तमिलनाडु हेलिकॉप्टर क्रैश हादसे में जान गंवाने वाले हरियाणा के ब्रिगेडियर लखविंदर सिंह लिड्डर के परिवार को 50 लाख रुपये की सहायता राशि देने की अनुमति प्रदान की गई है। इसके साथ-साथ ब्रिगेडियर के परिवार से किसी एक आश्रित को सरकारी नौकरी भी दी जाएगी। ब्रिगेडियर लखविंदर का निधन उनके परिवार और प्रदेश के लिए अपूर्णीय क्षति है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सैनिक और अर्ध सैनिक बल की एक्सग्रेसिया पॉलिसी के तहत शहीद होने वाले सैनिक परिवार के आश्रितों को आर्थिक सहायता के साथ-साथ सरकारी नौकरी दिए जाने का प्रावधान है। इस नीति के तहत हैलिकॉप्टर क्रैश हादसे में जान गंवाने वाले ब्रिगेडियर लखविंदर सिंह की मौत को अस्थाई लड़ाई दुर्घटना मानते हुए विशेष आर्थिक सहायता व नौकरी देने की घोषणा की गई है। इस तरह का यह हरियाणा में पहला मामला है।
उल्लेखनीय है कि तमिलनाडु के कुन्नूर जिले में 8 दिसंबर को सीडीएस जनरल विपिन रावत, उनकी पत्नी और ब्रिगेडियर लखविंदर सिंह लिड्डर समेत सेना के कई जवानों ने हैलीकॉप्टर हादसे में जान गंवा दी थी।

चंडीगढ़, 14 जनवरी – हरियाणा सरकार ने वित्तायुक्त, राजस्व एवं आपदा प्रबंधन तथा चकबंदी विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री पीके दास को उनके वर्तमान कार्यभार के अलावा बिजली विभाग तथा नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग का कार्यभार सौंपा गया है।
इसके अलावा, अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस श्री नवदीप सिंह विर्क (कानून एवं व्यवस्था) को परिवहन विभाग के प्रधान सचिव का कार्यभार सौंपा गया है।