हरियाणा सरकार की मुख्य गतिविधियां एवं उनसे जुड़े समाचार पढ़िए मातृभूमि संदेश न्यूज नेटवर्क पर।

अभी भी कोरोना से बचने का एकमात्र उपाय वैक्सीन- डा. बनवारी लाल

सहकारिता मंत्री ने वैक्सीनेशन में अच्छा कार्य करने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों को किया सम्मानित

चंडीगढ़, 29 नवंबर – बी डी कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश न्यूज नेटवर्क।
हरियाणा के सहकारिता मंत्री डा. बनवारी लाल ने नूंह जिला के निवासियों से अपील करते हुए कहा कि कोविड बहुत ही खतरनाक बीमारी है, अभी भी इससे बचने का एकमात्र उपाय वैक्सीनेशन ही है इसलिए लोगों को अफवाहों पर ध्यान ने देकर वैक्सीनेशन अवश्य करवाना चाहिए।

डा. बनवारी लाल आज जिला सचिवालय के सभागार में लोक संपर्क एवं कष्ट निवारण समिति की बैठक के बाद नूंह जिला में वैक्सीनेशन कार्य में अच्छा कार्य करने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित कर रहें थे।

उपायुक्त कैप्टन शक्ति सिंह ने सहकारिता मंत्री को बताया कि जिला में कल तक 67 गांव में शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन का कार्य पूरा हो चुका है तथा जिले में 57 प्रतिशत लोगों का टीकाकरण हो चुका है। उन्होंने बताया कि जिले में टीकाकरण काम तेजी से किया जा रहा है। पिछले 15 दिनों में टीकाकरण की रफ्तार तेज हुई है जल्द ही समुचित जिले को वेक्सीनेट कर दिया जाएगा।

सहकारिता मंत्री ने पुन्हाना की एसडीएम मनीषा शर्मा को अपने उपमंडल में वैक्सीनेशन के कार्य में अच्छा कार्य करने पर सम्मानित किया वही मंत्री ने डा. योगेन्द्र, डा. बीएस सिंगल, डा. हार्षित गोयल, डा. मनप्रीत व आबिद, नरेन्द्र कुमार, सतीश कुमार, बिजेन्द्र सिंह तथा जिला की टॉप वैक्सीनेटर सपना, लीलावती, पूनम राजपूत, सकुन्त, मिन्टू, सरोज, ऊषा यादव, अन्जू लता, मनीषा व अन्जू को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।

चंडीगढ़, 29 नवंबर – मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। हरियाणा पंजाबी साहित्य अकादमी द्वारा 30 नवंबर 2021 को करनाल में ‘हरियाणा-पंजाब संगम’ कवि दरबार का आयोजन किया जाएगा। इस बारे में जानकारी देते हुए अकादमी के प्रवक्ता ने बताया कि इस अवसर पर हरियाणा में पंजाबी भाषा पर एक चर्चा भी की जाएगी। कवि दरबार में हरियाणा पंजाबी साहित्य अकादमी के उपाध्यक्ष सरदार गुरविंदर सिंह धमीजा मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत करेंगे। उन्होंने बताया कि नगर निगम करनाल के संयुक्त आयुक्त सरदार गगनदीप सिंह मुख्य वक्ता के तौर पर जबकि गुरु नानक खालसा कालेज के प्रिंसिपल डॉ. मेजर सिंह खैहरा और सुखी बाठ, निर्माता पंजाब भवन कैनेडा विशेष मेहमान के तौर पर शिरकत करेंगे।

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ओमप्रकाश यादव ने किया जिला के पहले अंत्योदय मेले का शुभारंभ

चंडीगढ़, 29 नवंबर – मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। हरियाणा के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री श्री ओमप्रकाश यादव ने कहा कि गरीब लोगों की मदद करना सदियों से हमारी संस्कृति व परंपरा रही है। सरकार भी अपने संवैधानिक व नैतिक दायित्वों का निर्वहन करते हुए गरीब लोगों को मुख्यधारा में शामिल करने का कार्य कर रही है। मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना इसी अभियान का हिस्सा है।

श्री यादव आज नारनौल में लगे दो दिवसीय अंत्योदय मेले के शुभारंभ के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

श्री यादव ने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय के अंत्योदय के दर्शन पर चलते हुए सरकार ने गरीबों का जीवन स्तर ऊपर उठाने का यह कारगर कदम उठाया है। सरकार ने गरीबों के उत्थान के लिए परिवार पहचान पत्र के माध्यम से आंकड़े एकत्रित करके इन परिवारों को इन मेलों के लिए आमंत्रित किया है।

उन्होंने कहा कि इन मेलों में सभी विभाग तथा बैंक भागीदारी कर रहे हैं ताकि लाभार्थी को मौके पर ही किसी योजना के साथ जोड़ा जा सके। इन मेलों के लिए अंत्योदय परिवारों को जिला प्रशासन की ओर से निमंत्रण दिया जा रहा है। इस मेले में लगभग 300 लाभार्थियों ने पंजीकरण करवाया है।

चंडीगढ़, 29 नवंबर – मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के मिशन डायरेक्टर श्री मनदीप बराड़ ने कहा कि मुख्यमंत्री परिवार उत्थान योजना एक महत्वपूर्ण योजना है और इस योजना के तहत हमें मिलकर कार्य करते हुए योग्य लाभार्थियों को इसका लाभ दिलवाते हुए उनकी आमदनी को बढ़ाना है।

श्री बराड़ आज अम्बाला छावनी में आयोजित विशेष मेले में बतौर मुख्य अतिथि पंहुचे थे।

मिशन डायरेक्टर ने कहा कि मुख्यमंत्री परिवार उत्थान योजना के तहत पूरे राज्य में मेलों का आयोजन किया जा रहा है। इन मेलों का लगाए जाने का मुख्य उद्देश्य गरीबों की आमदनी को बढ़ाना है। इस कार्य के लिये सर्वे किया गया है और सर्वे के मुताबिक सभी जगहों पर योग्य लाभार्थियों को एसएमएस के माध्यम से तथा जिला प्रशासन द्वारा दूरभाष के माध्यम से बुलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत कोई भी परिवार जो गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहा है, यानि उसकी सालाना आय 1.80 लाख रुपए से कम है, उसकी आय को बढ़ाना है।

उन्होंने अंबाला छावनी में लगाए गए इस मेले में जहां स्टॉलों का अवलोकन किया, वहीं बैंक प्रतिनिधियों को भी यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए कि जिस योजना के तहत या स्वरोजगार के लिए लाभार्थी ने आवेदन किया है, उसे बैंक के माध्यम से ऋण उपलब्ध करवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि इस कार्य को 15 दिन के अंदर-अंदर करना सुनिश्चित करना है।

चंडीगढ़, 29 नवंबर – मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। असंगठित मजदूरों के उत्थान और कल्याण के उद्देश्य से राष्ट्रीय स्तर पर डेटाबेस तैयार किया जा रहा है, जिसके तहत ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण कार्य पूर्ण करने की तिथि 31 दिसंबर निर्धारित की गई है।

एक सरकारी प्रवक्ता ने यह जानकारी देते हुए बताया कि राज्य के संबंधित विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे असंगठित क्षेत्र में आने वाले मजदूरों व कर्मचारियों का पंजीकरण जरूर करवाएं। पंजीकरण प्रक्रिया बेहद सरल है, जिसके लिए कामगार नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटरों (सीएससी) एवं अटल सेवा केंद्रों में जाकर निशुल्क पंजीकरण करवा सकते हैं। पंजीकरण के लिए आधार कार्ड व बैंक अकाउंट पासबुक और मोबाईल नंबर की आवश्यकता है।

उन्होंने बताया कि कामगार-श्रमिक-मजदूर-स्व रोजगारियों की विभिन्न श्रेणियों में आने वाले मजदूर ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण करवा सकते हैं। इनमें निर्माण श्रमिक, खेतीहर मजदूर, दिहाड़ीदार मजदूर, बढ़ई, प्रवासी मजदूर, मनरेगा वर्कर, ऑटो चालक, आशा वर्कर, आंगनबाड़ी वर्कर व हेल्पर, घरेलू कामगार, दूध बेचने वाले, बिजली मिस्त्री, रेहड़ी-पटरी वाले, रिक्शा चालक, सब्जी विक्रेता, कारीगर, बुनकर, पलंबर व अन्य असंगठित क्षेत्र के मजदूर शामिल हैं।

उन्होंने बताया कि ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण करवाने वाले असंगठित कामगारों को केंद्र व राज्य सरकार द्वारा दिए जाने वाले कई विशेष लाभ मिलेंगे। पंजीकृत कामगारों का ई-श्रम कार्ड पूरे भारत में स्वीकार्य रहेगा, पीएमएसबीवाई के तहत दुर्घटना बीमा कवरेज मिलेगा, विभिन्न प्रकार के सामाजिक सुरक्षा लाभों का वितरण ई-श्रम के द्वारा किया जायेगा, आपदा या महामारी जैसी कठिन परिस्थितियों में केंद्र व राज्य सरकारों से मदद मिलना आसान होगा तथा दुर्घटना से हुई मृत्यु अथवा स्थाई रूप से दिव्यांग होने पर दो लाख रुपए व आंशिक दिव्यांग होने पर एक लाख रुपए की अनुदान राशि प्राप्त होगी।

चंडीगढ़, 29 नवंबर – मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। हरियाणा के पशुपालन विभाग की ओर से किसानों को पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना का लाभ देने के लिए सभी जिलों में पशु किसान क्रेडिट कैंप आयोजित किए जाएंगे।

पशुपालन एवं डेयरी विभाग के प्रवक्ता ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि किसानों को सरकार की योजनाओं का लाभ देने के उद्देश्य से सभी जिलों में प्रत्येक पशु अस्पताल में पशु किसान क्रेडिट कैंप आयोजित किए जा रहे हैं। उन्होंने किसानों का आह्वान किया कि वे अपने नजदीकी पशु स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर पशु किसान क्रेडिट योजना का लाभ उठाएं तथा अपने आसपास के लोगों को इन योजनाओं बारे जानकारी दें।

उन्होंने बताया कि पशु किसान क्रेडिट कार्ड बनाने के लिए बैंक प्राफार्मा अनुसार आवेदन फार्म, केवाईसी पहचान के लिए आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी आदि, हाइपोथैकेशन करार व आवश्यक अन्य दस्तावेज साथ लाने होंगे।

उन्होंने बताया कि योजना के तहत गाय, भैंस, भेड़-बकरी और मुर्गी पालन के लिए अधिकतम तीन लाख रुपए तक का ऋण दिया जाता है। उन्होंने बताया कि पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत पहले यह राशि किस्तों में दी जाती थी जबकि अब यह राशि एकमुश्त दी जाएगी। लाभार्थी को यह राशि 4 प्रतिशत ब्याज के साथ एक वर्ष में लौटानी होगी।

वर्तमान राज्य सरकार ने टेल तक पानी पहुंचाना सुनिश्चित किया है- सहकारिता मंत्री

चंडीगढ़, 29 नवंबर – मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। हरियाणा के सहकारिता, अनुसूचित जातियां एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री डा. बनवारी लाल ने कहा कि कि वर्तमान राज्य सरकार ने टेल तक पानी पहुंचाना सुनिश्चित किया है। इसके बावजूद पानी की चोरी निंदनीय है, जिस पर लगाम लगाने के लिए संबंधित अधिकारी हर संभव प्रयास करें।

उन्होंने आज पलवल में जिला लोक संपर्क एवं परिवाद समिति की बैठक में 14 में से 12 परिवादों का मौके पर ही समाधान किया, जबकि दो परिवाद विशेष दिशा-निर्देशों के साथ आगामी बैठक के लिए लंबित रखे।

हथीन खंड के ग्रामीणों ने इस संदर्भ में जिला परिवाद समिति की बैठक में शिकायत देते हुए गुरूग्राम कैनाल में अवैध कनैक्शनों पर रोक लगवाने की मांग की। सहकारिता मंत्री ने संबंधित विभागीय अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए कि अवैध कनैक्शन के आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवायें। बिजली निगम को भी उन्होंने निर्देश दिए कि वे बिजली के कनैक्शनों की जांच करें। अवैध रूप से पानी की चोरी गंभीर मामला है, जो कि स्वीकार्य नहीं है। उन्होंने रजवाहों की सफाई के निर्देश भी दिए।

बैठक में गांव टिकरी ब्राह्मण के भीकम सिंह ने शिकायत दी कि उन्हें उनकी ही जमीन पर बीजाई करने से रोका जा रहा है, जिसके चलते गत दिवस बीजाई का प्रयास करने पर उन पर व उनके परिवार पर दूसरे पक्ष ने हमला किया। डा. बनवारी लाल ने इस मामले के समाधान के लिए कमेटी बनाकर निपटारा करवाने के निर्देश दिए, जिसकी विशेष जिम्मेदारी उन्होंने संबंधित क्षेत्र के विधायक को सौंपी। शिकायत को आगामी बैठक के लिए लंबित रखा। उपरोक्त के अलावा भी कुछ शिकायतें प्रस्तुत की गई, जिनमें कुछ मामलों में शिकायतकर्ता प्रस्तुत नहीं हुए जिनका समाधान किया जा चुका है।

आत्मनिर्भर भारत की दिशा में बढ़ते कदम में मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना अहम – डा. बनवारी लाल

सहकारिता मंत्री डॉ. बनवारी लाल ने बावल में किया मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना मेले शुभारंभ

चंडीगढ़, 29 नवंबर – मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। हरियाणा के सहकारिता मंत्री डॉ बनवारी लाल ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत की दिशा में बढ़ते कदम में मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना अहम है। अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के प्रभावी रूप से क्रियान्वयन के लिए प्रदेश भर में अंत्योदय मेलों का आयोजन किया जा रहा है जिस में जरूरतमंद पात्र परिवारों को सरकार की कल्याणकारी योजनाओं से सीधे तौर पर लाभ दिया जा रहा है।

डा. बनवारी लाल बावल में आजादी का अमृत महोत्सव की श्रंखला में मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत आयोजित दो दिवसीय अंत्योदय मेले के शुभारंभ अवसर पर आयोजित कार्यक्त्रम को संबोधित कर रहे थे।

सहकारिता मंत्री ने मेले में लगी विभिन्न विभागों की योजनाओं को दर्शाती स्टाल्स का अवलोकन भी किया। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को विभागीय स्तर पर दी जाने वाली सेवाओं को तत्परता से पात्र व्यक्ति तक पहुंचाने के निर्देश दिए । उन्होंने कहा कि जनसेवा को समर्पित मौजूदा सरकार के सात साल बेमिसाल रहे हैं और अंत्योदय की भावना से सरकार उल्लेखनीय कदम उठा रही है।

चंडीगढ़, 29 नवंबर – मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। हरियाणा सरकार ने प्रदेश के दो सरकारी कॉलेजों में शैक्षणिक सत्र 2021-22 से नए स्नातकोत्तर कोर्स शुरू करने का निर्णय लिया है। एक सरकारी प्रवक्ता ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि उच्चतर शिक्षा विभाग के निर्देश अनुसार इसी शैक्षणिक सत्र से फतेहाबाद जिला के भुना में स्थित राजकीय कालेज में हिंदी व अंग्रेजी विषय में एम.ए कोर्स तथा हिसार जिला के नारनौंद में स्थित राजकीय कालेज में एम.कॉम कोर्स की एक-एक यूनिट आरंभ की गई हैं।

चंडीगढ़ 29, नवंबर – मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। हरियाणा के परिवहन मंत्री श्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि राज्य सरकार समाज के अंतिम पंक्ति में खड़े जरूरतमंद व्यक्ति तक योजनाओं का लाभ पहुंचाकर उसे समाज की मुख्यधारा में लाने का कार्य कर रही है। सरकार ने इस वर्ष एक लाख परिवारों का उत्थान करने का लक्ष्य रखा है।

परिवहन मंत्री आज जिला फरीदाबाद में आयोजित मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान मेले का उद्घाटन करने उपरांत पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। मेले में योजना से 18 विभागों व सात बैंकों द्वारा आमजन को जागरूक करने के उद्देश्य से स्टॉल लगाए गए।

श्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि ‘मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना’ मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल का ड्रीम प्रोजेक्ट है जो पंडित दीनदयाल उपाध्याय के अंत्योदय के दर्शन पर आधारित है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री का मानना है कि समाज के जिन लोगों को सहायता की सबसे पहले और अत्यधिक आवश्यकता है, उसे सरकारी सहायता सबसे पहले मिलनी चाहिए। मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना भी इसी का हिस्सा है।

उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि 29 और 30 नवंबर तक लगने वाले इस मेले का भरपूर लाभ लें। यदि कोई व्यक्ति अपना छोटा-मोटा रोजगार शुरू करना चाहता है तो ऐसे व्यक्ति के लिए ऐसे मेले महत्वपूर्ण साबित होते हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह के मेले भविष्य में भी आयोजित किए जाएंगे।

श्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि इस तरह की पहल के जरिए हम समाज के सभी लोगों को मुख्यधारा से जोड़ सकते हैं। उन्होंने बेहतरीन आयोजन के लिए प्रशासन को बधाई भी दी।