हरियाणा सरकार की मुख्य गतिविधियां एवं उनसे जुड़े समाचार पढ़िए मातृभूमि संदेश न्यूज नेटवर्क पर।

चंडीगढ़ 23 नवंबर: बी डी कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश न्यूज नेटवर्क। हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री जेपी दलाल ने कहा कि राष्ट्रीय कृषि सम्मेलनों के आयोजन से हम सभी सीखते हैं और बागवानी में सुधार के लिए विभिन्न देशों द्वारा अपनाए गए अनुभवों का आदान-प्रदान करते हैं। कृषि मंत्री सोमवार को पंचकूला में भारत-इसराइल सम्मेलन के तीसरे दिन बागवानी से जुड़े इसरायली प्रतिनिधिमंडल और वैज्ञानिकों को संबोधित कर रहे थे।

मंत्री श्री जेपी दलाल ने कहा कि हरियाणा कृषि के अलावा मछली पालन में इस्तेमाल की जाने वाली नई तकनीकों को अपनाने के लिए सभी देशों का स्वागत कर रहा है। उन्होंने किसानों को कुछ क्षेत्रों में भूमिगत जल की कमी को पूरा करने के लिए बागवानी और कम पानी की खपत वाली फसलों को अपनाने का आग्रह किया।

मंत्री श्री जेपी दलाल ने कहा कि अब उत्कृष्टता ग्राम कार्यक्रम के तहत राज्य के चिन्हित गांवों को बागवानी की आधुनिक तकनीक उपलब्ध कराई जा रही हैं, जिससे प्रदेश के किसानों को और लाभ होगा।

इस कदम से किसान बागवानी की नई तकनीकों को अपनाने की और बढ़ेंगे व अपनी आय के स्रोत भी बढ़ा सकेंगे। अब तक राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय एजेंसियों की मदद से हरियाणा राज्य के भीतर 11 उत्कृष्टता केंद्र स्थापित किए जा चुके हैं। इसके अलावा, राज्य सरकार ने बागवानी में आधुनिक रणनीतियों को बढ़ावा देने के लिए वर्ष 2021 के भीतर पूरे राज्य के गांवों में 64 उत्कृष्टता केंद्र स्थापित करने का निर्णय लिया है।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए हरियाणा बागवानी विभाग के महानिदेशक डॉ. अर्जुन सिंह सैनी ने कहा कि इस तरह के सम्मेलन के आयोजन से नई तकनीक का आदान-प्रदान किया जा सकता है। देश के किसान नई तकनीकों को अपनाकर बागवानी के क्षेत्र में नई ऊंचाईयां हासिल कर सकते हैं।

भारत में इजरायल के राजदूत नाओर गिलोन ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल से की मुलाकात
राज्य में चार उत्कृष्टता केंद्र के सफल संचालन के लिए की हरियाणा की सराहना
इजरायल भविष्य में भी हरियाणा में कई परियोजनाएँ करेगा स्थापित- राजदूत नाओर गिलोन
इजरायल के सहयोग से मत्स्य व्यवसाय को बढ़ावा देने की संभावनाएं तलाशी जा सकती हैं- मनोहर लाल
चंडीगढ़, 22 नवंबर: मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। भारत में इजरायल के राजदूत श्री नाओर गिलोन ने आज यहां हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने कृषि क्षेत्र में हरियाणा के साथ अपने मौजूदा निवेश समझौतों के अलावा अनुसंधान, शिक्षा, स्वास्थ्य सेवाओं, एयरोनॉटिक्स क्षेत्रों में ओर मजबूती व सहयोग की संभावनाओं पर चर्चा की।
बैठक के दौरान श्री नाओर गिलोन ने राज्य में विभिन्न स्थानों पर चार उत्कृष्टता केंद्रों के सफलतापूर्वक संचालन के लिए हरियाणा की सराहना की। उन्होंने कहा कि भविष्य में भी इजरायल भारत के विभिन्न राज्यों में ऐसी कई परियोजनाएं स्थापित करेगा और इसमें अधिकतर परियोजनाएँ हरियाणा में होंगी, क्योंकि हरियाणा एक ऐसा राज्य है , जहां जमीन की उत्पादन क्षमता, दक्षता व वातावरण परिस्थितियों के अनुकूल हैं ।
उन्होंने कहा कि भारत में इजरायल द्वारा किए गए कुल 80 प्रतिशत निवेश में से लगभग 50 प्रतिशत हरियाणा में निवेश किया गया है। अब इजराइल का लक्ष्य हरियाणा में कृषि के अलावा अन्य क्षेत्रों में निवेश की अधिक संभावनाएं तलाशना है। उन्होंने कहा कि अब हम हरियाणा में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के बाद विलेज ऑफ एक्सीलेंस की अवधारणा की ओर बढ़ रहे हैं।
श्री नाओर गिलोन ने मुख्यमंत्री के साथ हरियाणा और इजरायल के मध्य विकास के लिए विभिन्न क्षेत्रों की पहचान करने पर व्यापक चर्चा की। उन्होंने कहा कि टेलीमेडिसिन के क्षेत्र में इजरायल बहुत मजबूत है, इसलिए हरियाणा सरकार के साथ इस क्षेत्र में निवेश की संभावनाओं पर विचार किया जा सकता है।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य की काफी भूमि खारे पानी वाली है, इसलिए प्रदेश में मत्स्य व्यवसाय को बढ़ावा देने की संभावनाएं तलाशी जा सकती हैं। उन्होंने कहा कि सूक्ष्म सिंचाई भी निवेश का एक अन्य क्षेत्र हो सकता है। हरियाणा ने जल प्रबंधन को भी एक गंभीर विषय के रूप में लेते सामुदायिक स्तर पर सूक्ष्म सिंचाई, वॉटर फार्म तालाब, गांव के तालाबों और नहर से संबंधित प्रोजेक्ट को विकसित करके एक अलग कार्यक्रम शुरू किया है। इसलिए इज़राइल इस क्षेत्र में भी तकनीकी सहयोग दे सकता है।
बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने येरूसलम में संचालित एम्बू-बाइक (एम्बुलेंस से सुसज्जित दोपहिया सेवा) में गहरी दिलचस्पी दिखाते हुए अधिकारियों को यह सेवा चलाने वाले एनजीओ के साथ संपर्क स्थापित कर इस क्षेत्र में सहयोग की संभावनाओं का पता लगाने और उन्हें हरियाणा आने के लिए आमंत्रित करने के निर्देश दिए।
श्री मनोहर लाल ने कहा कि व्यवसाय या आर्थिक पहलुओं के साथ-साथ मानवीय तत्वों पर भी विचार करना उतना ही आवश्यक है, इसलिए व्यवसायों के विभिन्न मॉडलों जैसे बी टू बी, जी टू जी, बी टू जी के अलावा हम एच टू एच मॉडल यानी हार्ट टू हार्ट कनेक्ट में विश्वास रखते हैं।
इससे पूर्व कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री जेपी दलाल ने कहा कि हरियाणा एक लैंडलॉक्ड राज्य है, लेकिन अंतर्देशीय मछली पालन विकसित की है, 2000 से अधिक मत्स्य तालाबों की स्थापना की है और हरियाणा को झींगा के सबसे बड़े उत्पादकों में से एक बनाने की उम्मीद है, इसलिए राज्य में इजरायल के सहयोग से एक मत्स्य उत्कृष्टता केंद्र की स्थापना की संभावनाएं तलाशी जानी चाहिएं।
उन्होंने कहा कि इजरायल ने शुष्क भूमि बागवानी के लिए बेहतर तकनीक विकसित की है, इसलिए, हम उम्मीद करते हैं कि इज़रायल गिग्नो, भिवानी में सबसे अच्छा शुष्क भूमि बागवानी केंद्र विकसित करेगा। उम्मीद करते हैं कि इज़रायल अधिक से अधिक अधिकारियों को नव तकनीकों से प्रशिक्षित करेगा ।
इससे पूर्व, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. सुमिता मिश्रा ने सभी गणमान्यों का स्वागत करते हुए कहा कि इजरायल के साथ एक दशक से भी अधिक लंबे जीवंत संबंध रहे हैं। आशा करते हैं कि यह संबंध निश्चित रूप से और प्रगाढ़ होते रहेंगे तथा नई साझेदारी के अवसरों के लिए विभिन्न अन्य क्षेत्रों के बारे में पहचान करनी चाहिए।
उन्होंने कहा कि एमएटीसी और एचटीआई के साथ प्रशिक्षण व सहयोग की दिशा में आगे बढ़ना चाहिए, जिससे भविष्य में कौशल प्रशिक्षण और संयुक्त कार्यक्रम ज्ञान व प्रौद्योगिकियों के आदान-प्रदान की संभावना बढ़ेगी। इसके अलावा, बागवानी विश्वविद्यालय इज़रायल के साथ बीज उत्पादन कार्यक्रम की भी संभावनाओं की पहचान करेगा।
बैठक में मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव श्री डी. एस. ढेसी, विदेश सहयोग विभाग के प्रधान सचिव श्री योगेंद्र चौधरी, कृषि विभाग के महानिदेशक श्री हरदीप सिंह, बागवानी विभाग के महानिदेशक श्री अर्जुन सैनी, चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. बी.आर. काम्बोज, लाला लाजपत राय पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालय के कुलपति श्री गुरदयाल सिंह, महाराणा प्रताप बागवानी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. समर सिंह सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित रहे।

चंडीगढ़, 22 नवंबर- मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। हरियाणा सरकार ने तुरंत प्रभाव से मुख्य प्रशासक ट्रेड फेयर अथॉरिटी आफ हरियाणा, नई दिल्ली, महिला एवं बाल विकास विभाग की प्रधान सचिव श्रीमती जी. अनुपमा को उनके वर्तमान कार्यभार के अलावा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री राजीव अरोड़ा के अवकाश के दौरान स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के प्रधान सचिव का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा है।

चंडीगढ़, 22 नवंबर- मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। करनाल के बसताड़ा टोल प्लाजा मामले की जांच कर रहे जस्टिस एसएन अग्रवाल आयोग का कार्यकाल 24 दिसंबर 2021 तक बढ़ा दिया गया है। इस संबंध में अधिसूचना जारी की गई है। इस दौरान आयोग की सभी सेवा एवं शर्तें पहले वाली ही लागू रहेंगी।

रोडवेज विभाग को निरंतर किया जा रहा मजबूत ः परिवहन मंत्री श्री मूलचंद शर्मा
– विभाग के बेड़े में शामिल की जा रही नई बसें
– कर्मचारी यूनियनों से भी विभाग की मजबूती का किया आह्वान
चंडीगढ़, 22 नवंबर- परिवहन मंत्री हरियाणा श्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि परिवहन विभाग को निरंतर मजबूत करने के साथ-साथ जनता की सेवा के उद्देश्य से इसे और अधिक पारदर्शी भी बनाया जा रहा है। रोडवेज यूनियन भी अगर विभाग को मजबूत बनाने में आगे आएंगी और सहयोग करेंगी, तो निसंदेह परिवहन विभाग लोगों को अच्छी यातायात सेवा की देने में और अधिक समर्थ बनेगा। रोडवेज विभाग को मजबूत बनाने के लिए अभी हाल ही में 809 रोडवेज बसों की खरीद की गई है तथा आने वाले समय में 500 और नई बसें खरीदी जाएंगी।
परिवहन मंत्री ने यह बात आज हरियाणा परिवहन विभाग से संबंधित विभिन्न कर्मचारी यूनियनों के पदाधिकारियों के साथ हरियाणा निवास में आयोजित बैठक के दौरान कही। उन्होंने बैठक में कर्मचारी यूनियनों के पदाधिकारियों द्वारा रखी गई मांगों को सहानुभूतिपूर्वक सुना और उनका जल्द समाधान करने का आश्वसान दिया। उन्होंने कहा कि परिवहन विभाग निरंतर कर्मचारियों के हित में फैसले ले रहा है। प्रदेश सरकार ने कर्मचारियों के हित में ऐसे फैसले लिए हैं, जो पिछले 40 वर्षों में नहीं लिए गए। इसी कड़ी में अब कर्मचारियों को पिछले वर्षों का बोनस दिया जाएगा। साथ ही, उनकी वर्दी की मांग को भी जल्द पूरा करने के लिए अधिकरियों को निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि विभाग में पिछले दिनों 2 हजार 500 से अधिक कर्मचारियों को पदोन्नति का लाभ दिया जा चुका है।
श्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि कर्मचारी यूनियनों की समय-समय पर अधिकतर मांगों को पूरा किया जाता रहा है तथा यूनियनों की ओर से आने वाले सुझावों पर भी सकारात्मक रूप से विचार-विमर्श कर उन्हें लागू किया जाता है। कर्मचारी परिवहन विभाग की रीढ़ हैं और विभाग को उनके हित में फैसले लेने में कोई संकोच भी नहीं है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की जीरो टॉलरेंस नीति के अनुसार विभाग में भ्रष्टाचार की संभावनाओं पर लगाम लगाने के लिए अधिकारियों व कर्मचारियों को निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि उनके रहते विभाग में किसी भी स्तर पर भ्रष्टाचार को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। विभाग का काम जनभावनाओं के अनुरूप जनता को अच्छी व पारदर्शी सेवाएं देना है। उन्होंने यूनियन के सभी पदाधिकारियों का आह्वान किया कि वे इस बात को मन से निकाल दें कि विभाग को निजीकरण की ओर ले जाया जा रहा है, बल्कि विभाग में निरंतर नई भर्ती करने व नई बसें खरीदकर विभाग को और अधिक मजबूत बनाया जा रहा है। उन्होंने सभी यूनियन के पदाधिकारियों को सुझाव दिया कि वे अलग-अलग यूनियन न बनाकर एक ही यूनियन बनाएं और यह यूनियन जाति, समुदाय व धर्म के आधार पर न बनाई जाएं। इस मीटिंग में परिवहन मंत्री के आव्हान पर सभी अधिकतर कर्मचारी यूनियनों के पदाधिकारियों ने यूनियन के चुनाव करवाने की बात पर सहमति जताई।
इस मीटिंग में परिवहन विभाग की प्रधान सचिव श्रीमती कला रामचंद्रन व महानिदेशक श्री वीरेंद्र दहिया समेत विभाग के कई वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित रहे।

मुख्यमंत्री ने दिए खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 के लिए राज्य स्तरीय समिति गठित करने के निर्देश
चंडीगढ़, 22 नवंबर- मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आगामी खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 के लिए एक राज्य स्तरीय समिति गठित करने के निर्देश दिए हैं। समिति की अध्यक्षता खेल एवं युवा मामलों के राज्य मंत्री संदीप सिंह करेंगे। यह समिति 5 से 14 फरवरी, 2022 के बीच पंचकूला, अंबाला, शाहाबाद, चंडीगढ़ और दिल्ली राज्य में होने वाले खेलों के लिए आवास, खानपान, परिवहन, समारोहों, आयोजन दिवसों और खेल उपकरणों की खरीद के संबंध में 25 खेल व्यवस्थाओं की निगरानी करेगी।

मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 की तैयारी की समीक्षा के लिए सह-समन्वय आयोजन समिति की आयोजित दूसरी बैठक के दौरान यह निर्णय लिया गया। खेल और युवा मामलों के राज्य मंत्री, श्री संदीप सिंह भी बैठक में मौजूद रहे। बैठक में भारत सरकार के अधिकारी भी वर्चुअली जुड़े।
बैठक में निदेशक, खेल और युवा मामले, श्री पंकज नैन ने खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 की तैयारियों के संबंध में विस्तृत प्रस्तुति दी। मुख्यमंत्री ने संबंधित अधिकारियों को खेल के बुनियादी ढांचे को मजबूत और सुव्यवस्थित करने के भी निर्देश दिए हैं। बैठक में मुख्यमंत्री को बताया गया कि विभिन्न खेल परिसरों, हॉकी स्टेडियम और बैडमिंटन हॉल, ऑडिटोरियम और एथलेटिक स्टेडियम के विकास कार्य पूरे होने वाले हैं और दिसंबर तक बनकर तैयार हो जाएंगे। इनकी तैयारियों की साप्ताहिक समीक्षा की जा रही है। खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 में पंचकूला से यमुनानगर के बीच साइकिलिंग प्रतियोगिता होगी। मुख्यमंत्री इन आयोजन स्थलों का स्वयं जायजा भी लेंगे।
उन्होंने बताया कि कार्यक्रम का शुभंकर ’धाकड़’ और थीम सॉन्ग तैयार कर लिया गया है। इसके लॉन्च और प्रमोशन सेरेमनी की तारीखें जल्द ही तय की जाएंगी। मुख्यमंत्री ने खेल विभाग के अधिकारियों को खेल की निगरानी की जिम्मेदारी जिला खेल और युवा मामलों के अधिकारियों (डीएसओ) को देने और खेल के बुनियादी ढांचे को बढ़ाने और निकट भविष्य में खेल विभाग में इंजीनियरिंग विंग स्थापित करने की संभावनाओं का पता लगाने के भी निर्देश दिए। एचएसवीपी द्वारा एक जनवरी, 2022 से 10 खेल परिसरों को खेल विभाग को सौंप दिया जाएगा। इन स्टेडियमों का वार्षिक रखरखाव खेल विभाग द्वारा किया जाएगा।
हरियाणा के मुख्य सचिव, श्री. विजय वर्धन, मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव श्री. डीएस ढेसी, अतिरिक्त मुख्य सचिव, वित्तीय आयुक्त, राजस्व, आपदा प्रबंधन और चकबंदी विभाग, श्री संजीव कौशल, अतिरिक्त मुख्य सचिव लोक निर्माण (बी एंड आर) और वास्तुकला विभाग श्री आलोक निगम, अतिरिक्त मुख्य सचिव, विकास एवं पंचायत विभाग, श्री. अमित झा, अतिरिक्त मुख्य सचिव, वित्त एवं योजना विभाग, श्री. टी.वी.एस.एन प्रसाद, प्रधान सचिव, खेल एवं युवा मामले विभाग, श्री. ए.के. सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान, श्री. वी. उमाशंकर, उप प्रधान सचिव श्रीमती आशिमा बराड़ सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी बैठक में मौजूद थे।

चंडीगढ़, 22 नवंबर- मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। हरियाणा सरकार द्वारा राज्य के कार्यों में पारदर्शिता लाने के उद्देश्य से ‘हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण’ के विभिन्न प्रतिष्ठïानों की ऑनलाइन नीलामी की जा रही है। इस बारे में जानकारी देते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि राजीव गांधी एजूकेशन सिटी, सोनीपत की इंस्टीट्यूशनल साइट के चार प्लाटों की तथा अस्पताल के लिए गुरूग्राम के दो, जींद, फरीदाबाद व पंचकुला की एक-एक तथा हिसार की दो साइटों की ई-नीलामी 30 नवंबर 2021 को होगी।

चंडीगढ़, 22 नवंबर- मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। आजादी के अमृत महोत्सव के दौरान आगामी 26 नवंबर 2021 को ‘संविधान दिवस’ मनाया जाएगा। भारत के राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद के नेतृत्व में मनाए जाने वाले इस कार्यक्रम में नई दिल्ली स्थित संसद के सैंट्रल-हॉल में उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, लोक सभा अध्यक्ष, मंत्रीगण, सांसद तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहेंगे।
एक सरकारी प्रवक्ता ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इस कार्यक्रम में आम जनता आनॅलाइन भी ले सकेगी। इसमें भाग लेने वाले नागरिकों को प्रमाण-पत्र प्रदान किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि संसदीय कार्य मंत्रालय द्वारा दो वेबपोर्टल भी बनाए गए हैं जिनमें एक पोर्टल पर 23 भाषाओं में संविधान की प्रस्तावना ऑनलाइन पढ़ी जाएगी जबकि दूसरे पोर्टल पर संवैधानिक स्वतंत्रता विषय पर ऑनलाइन क्विज प्रतियोगिता करवाई जाएगी। ये दोनों पोर्टल 26 नवंबर के बाद शुरू होंगे।

Haryana Agriculture and Farmers’ Welfare Minister, Sh. J.P Dalal presenting a memento and certificate to the participant on third day of India-Israel Conference on Centres of Excellence and Villages of Excellence at Panchkula on November 22, 2021.

चंडीगढ़, 22 नवंबर – मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। हरियाणा सरकार ने तुरंत प्रभाव से तीन आईएएस अधिकारियों के स्थानांतरण एवं नियुक्ति आदेश जारी किए हैं।
सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम के महानिदेशक और अथाॅरिटी फाॅर सिटीजन रिर्सोसिस इनर्फोमेशन डिपाॅजिटरी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री विकास गुप्ता को उनके वर्तमान कार्यभार के अलावा नागरिक उड्डयन विभाग के सलाहाकार एवं सचिव का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है।
फतेहाबाद के उपायुक्त श्री महावीर कौशिक को पंचकूला का उपायुक्त लगाया गया है।
हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (मुख्यालय), पंचकूला के प्रशासक और नागरिक उड्डयन विभाग के सलाहाकार एवं विशेष सचिव श्री प्रदीप कुमार को फतेहाबाद का उपायुक्त लगाया गया है।

चंडीगढ़, 22 नवंबर – मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। श्रम एवं रोजगार राज्यमंत्री अनूप धानक ने कहा कि भारतीय खाद्य निगम का देश की खाद्य सुरक्षा में महत्वपूर्ण योगदान है। निगम खाद्यानों के भंडारण के साथ-साथ खरीद कार्यों में भी अहम भूमिका निभा रहा है।
श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री आज भारतीय खाद्य निगम के हिसार मंडल कार्यालय में “आजादी के अमृत महोत्सव” के तहत आयोजित किए गए कार्यक्रम को बतौर मुख्यातिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि निगम ने राष्ट्र की खाद्य सुरक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य किया है। निगम ने देश में खाद्यान्नों की खरीद, भंडारण तथा वितरण सहित विभिन्न कार्यों में सराहनीय कार्य किया है।
श्री अनूप धानक ने कहा कि सरकार द्वारा गरीब एवं जरूरतमंद लोगों के लिए विभिन्न योजनाएं शुरू की गई है, जिनमें प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना, अंत्योदय योजना, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना प्रमुख हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश में “सबका साथ- सबका विकास- सबका विश्वास” को आधार मानकर योजनाबद्ध ढंग से विकास कार्य करवाएं हैं। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा ” मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना” के तहत गरीब लोगों को योजनाओं एवं कार्यक्रमों का लाभ प्रदान करके उनके जीवन स्तर में सुधार लाया जाएगा। उन्होंने कहा कि “म्हारा गांव-जगमग गांव योजना ” के तहत प्रदेश के अधिकांश गावों में 22 से 24 घंटे तक बिजली की आपूर्ति की जा रही है। ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों की संपत्तियों का पंजीकरण करने के लिए “स्वामित्व योजना” को शुरू किया गया है। स्वामित्व योजना से ग्रामीण क्षेत्रों में एक और जहां लोगों के आपसी झगड़े खत्म होंगे वहीं दूसरे और विकास के नए मार्ग भी प्रशस्त होंगे।
इस अवसर पर निगम के मंडल प्रबंधक रूप सिंह मीणा, निगम के प्रबंधक अमित, लक्ष्मी, भारत भूषण, जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक अशोक शर्मा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

चंडीगढ़, 22 नवंबर – मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम के उपभोक्ता शिकायत निवारण मंच के चेयरमैन एवं सदस्य मंच की कार्यवाही 24 नवंबर, 2021 को सुुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक अधीक्षण अभियंता के कार्यालय, सेक्टर-5, पंचकूला में की जाएगी।
निगम के प्रवक्ता ने आज जानकारी देते हुए बताया कि मंच के सदस्य, उपभोक्ताओं की सभी प्रकार की समस्याओं की सुनवाई करेंगे जिनमें मुख्यत: बिलिंग, वोल्टेज, मीटरिंग से सम्बंधित शिकायतें, कनैक्शन काटने और जोडऩे बिजली आपूर्ति में बाधाएं, कार्यकुशलता, सुरक्षा, विश्वसनीयता में कमी और हरियाणा बिजली विनियामक आयोग के आदेशों की अवहेलना आदि शामिल हैं।
बहरहाल, मंच द्वारा बिजली अधिनियम की धारा 126 तथा धारा 135 से 139 के अन्तर्गत बिजली चोरी और बिजली के अनधिकृत उपयोग के मामलों में दंड तथा जुर्माना और धारा 161 के अन्तर्गत जांच एवं दुर्घटनाओं से सम्बंधित मामलों की सुनवाई नहीं की जाएगी।
सभी उपभोक्ताओं से अनुरोध किया जाता है कि अपनी शिकायतों के निवारण के लिए इस अवसर का लाभ उठाएं।

गौरवपूर्ण इतिहास को दिखाने का सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग का कदम सराहनीय : ओम प्रकाश यादव
चंडीगढ़, 22 नवम्बर- मातृभूमि संदेश बी डी कौशिक। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ओमप्रकाश यादव ने कहा कि भारत के स्वतंत्रता संग्राम में हमारे पूर्वजों को बहुत कुर्बानियां देनी पड़ी थी। देशभक्तों की शहादत के बारे में युवा पीढ़ी को जानकारी देने के लिए सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग सभी जिलों में डिजिटल प्रदर्शनी का आयोजन किया जा रहा है। “आजादी के अमृत महोत्सव ” के तहत स्वतंत्रता संग्राम के गौरवपूर्ण इतिहास को दिखाने का यह कदम बहुत सराहनीय है। श्री यादव आज नारनौल ,पंचायत भवन में तीन दिन तक लगने वाली डिजिटल प्रदर्शनी के शुभारंभ अवसर पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने कहा कि स्वतंत्रता संग्राम की हर लड़ाई में हरियाणा का विशेष योगदान रहा है। 1857 की क्रांति में महेंद्रगढ़ जिला के नसीबपुर गांव की धरती पर अंग्रेजो के खिलाफ हुए युद्ध में हजारों नागरिकों ने एक ही दिन में शहादत दी थी। हमारी युवा पीढ़ी को इस इतिहास की जानकारी देना बहुत जरूरी है ताकि वे आजादी के महत्व को समझें।
शुभारंभ के बाद आज दिनभर चली इस प्रदर्शनी में विभिन्न स्कूलों के बच्चों ने आजादी के लिए हरियाणा के नागरिकों के योगदान को समझा। तस्वीरों और अभिलेखों को देखकर बच्चे काफी उत्साहित नजर आए। यह प्रदर्शनी 22, 23 और 24 नवंबर को हर रोज 10 से 4 बजे तक लगाई जाएगी।
इस प्रदर्शनी में अभिलेखागार विभाग द्वारा संरक्षित किए गए महत्वपूर्ण अभिलेखों की फोटो प्रति भी डिजिटल प्रदर्शनी के माध्यम से दिखाई गई है।