अवैध गांजा के तस्करी पर बस्तर पुलिस की कार्यवाही*

*
🔅 *अवैध गांजा के तस्करी पर बस्तर पुलिस की कार्यवाही*

🔅 *रेल्वे स्टेशन पर गांजा तस्करी करते 02 आरोपी पकड़ा गया*

🔅 *गांजा उडीसा से ट्रेन के माध्यम से किया जा रहा था तस्करी*

🔅 *कुल 25 किलोग्राम अवैध गांजा बरामद*-

🔅 *अनुमानित कीमत 1,75,000/- रूपये*

🔅 *गांजा तस्कर उडीसा के कोरापुट जिले के निवासी*

🔅 *बस्तर पुलिस और आरपीएफ की संयुक्त कार्यवाही*

🔅 *नाम आरोपी:-*
*1. दामबारू पदुआ पिता हरि पदुआ उम्र 60 वर्ष निवासी लुगूम थाना माचकुण्ड जिला कोरापुट उडीसा।*

*2. रामशिसा पिता घासी शिसा उम्र 48 वर्ष निवासी कडम थाना माचकुण्ड जिला कोरापुट उडीसा।*

नई दिल्ली/जगदलपुर छत्तीसगढ़। मातृभूमि संदेश न्यूज नेटवर्क। अश्विनीकुमार कौशिक।

अपराध नियंत्रण के उद्देश्य से वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री जितेन्द्र सिंह मीणा के निर्देशन में लगातार बस्तर पुलिस के द्वारा कार्यवाही की जा रही है। जिस तारतम्य में आज बस्तर पुलिस को एक बार पुनः अवैध गांजा तस्करी पर कार्यवाही करने में सफलता मिली है। ज्ञात हो कि आरपीएफ एवं थाना बोधघाट को सूचना प्राप्त हुआ था कि कुछ व्यक्तियों के द्वारा उड़ीसा से छत्तीसगढ़ की ओर ट्रेन के माध्यम से अवैध रूप से गांजा की तस्करी किया जा रहा है। सूचना पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री जितेन्द्र सिंह मीणा एवं अति0 पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश शर्मा के मार्गदर्शन में नगर पुलिस अधीक्षक किरण चव्हाण के पर्यवेक्षण में थाना प्रभारी बोधघाट धनंजय सिन्हा एवं आरपीएफ के नेतृत्व में कार्यवाही हेतु टीम गठित कर रवाना किया गया था। उक्त टीम के द्वारा रेल्वे स्टेशन जगदलपुर में 02 संदिग्धों की पहचान कर घेराबंदी कर पकड़ा गया जिससे पूछताछ करने पर अपना नाम दामबारू पदुआ एवं रामशिसा निवासी कोरापुट (उडीसा) का होना बताया, जिनकी तलासी लेने पर संदेहियों के कब्जे से कुल 25 किलोग्राम अवैध गांजा मिला जिस संबंध में पूछताछ पर संदेहियों के द्वारा वैधानिक प्रत्युत्तर प्रस्तुत नही किया गया एवं उक्त गांजा विशाखापत्तनम- किरंदुल एक्सप्रेस ट्रेन में उडीसा से छत्तीसगढ़ की ओर तस्करी कर ग्राहक की तलाश में जगदलपुर आना स्वीकार किया। आरोपियों के कब्जे से कुल 25 किलोग्राम गांजा, 03 मोबाईल, आधार कार्ड बरामद कर जप्त किया गया है। जप्तशुदा गांजा की अनुमानित कीमत 1,75,000/-रू. आंकी गई है। मामले में आरोपियों के विरूद्व धारा 20(ख) एन0डी0पी0एस0 एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्ध कर अनुसंधान में लिया गया है दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय प्रस्तुत किया गया है ।  इस आपरेशन मे  महत्वपूर्ण भूमिका अदा करने वाले अधिकारी हैनिरीक्षक – धनंजय सिन्हाउप निरी० – टुमनलाल डडसेनाप्र०आर० – लवण पाणीग्राही, राजेश सिंहआर० – रूपेश यादव, भीम मंडावी, भैरव सिन्हा, अजीत सरकार, शोभा बंछोर।