हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने शुक्रवार को भारत के राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद जी से शिष्टाचार मुलाकात कर प्रदेश के विकास के साथ जन कल्याण की योजनाओं पर विस्तृत चर्चा की।

चण्डीगढ़ 23 जुलाई-बी डी कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश न्यूज नेटवर्क।      हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने शुक्रवार को भारत के राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद जी से शिष्टाचार मुलाकात कर प्रदेश के विकास के साथ जन कल्याण की योजनाओं पर विस्तृत चर्चा की। हरियाणा के राज्यपाल का पदभार ग्रहण करने के बाद राज्यपाल श्री दत्तात्रेय की राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद जी के साथ पहली शिष्टाचार मुलाकात थी।
राज्यपाल श्री दत्तात्रेय ने इस मुलाकात में हरियाणा में संचालित की जा रही विकासकारी योजनाओं के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार किसानों की आय दौगुनी करने, कृषि विकास और किसानों के कल्याण के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है। हरियाणा प्रदेश न्यूनतम समर्थन मूल्यों पर 11 फसलों की खरीद करने वाला पहला राज्य है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा किसानों की फसल बिक्री के बाद 72 घंटे के अंदर भूगतान किया जा रहा है। यह अपने-आप में एक उदाहरण है।
उन्होंने कहा कि हरियाणा में कृषि के साथ-साथ पशुपालन के क्षेत्र में विकास की आपार संभावनाएं हैं। हरियाणा जहां कृषि के क्षेत्र में देश का अग्रणी राज्य है, वहीं डेयरी विकास में भी प्रदेश अग्रिम पंक्ति में है। प्रदेश प्रति व्यक्ति प्रतिदिन 1344 ग्राम दूध उपलब्धता के साथ देश में पहले स्थान पर है। डेयरी विकास के लिए सहकारी संस्थाओं को मजबूत कर बढ़ावा दिया जा रहा है।
श्री दत्तात्रेय ने यह भी बताया कि प्रदेश के विश्वविद्यालयों ने गुणवत्ता के उच्चें मानकों को छूआ है। प्रदेश के विश्वविद्यालयों में छात्रों के लिए रोजगारोन्मुखी पाठ्यक्रम शुरू किए गए हैं। इसी उद्देश्य से हरियाणा में देश का पहला ‘‘श्री विश्वकर्मा कौशल विकास विश्वविद्यालय‘‘ भी स्थापित किया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि राज्य सरकार प्रदेश में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 लागू करने के लिए पूरी तरह तैयार है। प्रदेश में नई शिक्षा नीति लागू करने के प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है।
कैप्शन-1 – हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय शुक्रवार को राष्ट्रपति भवन, नई दिल्ली में भारत के राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविन्द से शिष्टाचार मुलाकात करते हुए।