हरियाणा सरकार की मुख्य गतिविधियां एवं उनसे जुड़े समाचार पढ़िए मातृभूमि संदेश न्यूज नेटवर्क।

-राज्य के बड़े प्रोजेक्ट्स को जल्दी पूरा करवाने के लिए केंद्रीय मंत्रियों से मिले डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला
-रक्षा और उड्डयन के क्षेत्र में ऐतिहासिक प्रोजेक्ट्स पर काम कर रही है हरियाणा सरकार, केंद्र से मांगा सहयोग
चंडीगढ़, 20 जुलााई। बी    कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश न्यूज नेटवर्क।

– हरियाणा को तेजी से प्रगति के पथ पर अग्रसर करने और केंद्र से जुड़े प्रदेश के बड़े प्रोजेक्ट्स को जल्द पूरा करवाने के लिए हरियाणा के उपमुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चौटाला निरंतर केंद्रीय मंत्रियों से मुलाकात कर रहे हैं। वे नई दिल्ली में केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया व केंद्रीय रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह से मिले। इस दौरान श्री दुष्यंत चौटाला ने उनसे देश व प्रदेश के जुडे अनेक मुद्दों पर चर्चा की। केंद्रीय मंत्रियों से मुलाकात के विषय पर डिप्टी सीएम ने कहा कि वे अपने विभागों से संबंधित केंद्रीय मंत्रियों से निरंतर मुलाकात कर रहे हैं और आने वाले दिनों में भी मुलाकात का सिलसिला जारी रहेगा।
उपमुख्यमंत्री ने दिल्ली में मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि हिसार में तैयार हो रहे एविएशन हब में रक्षा मंत्रालय की ओर से एयर फोर्स और इंडियन आर्मी के प्लेन और हेलीकॉप्टर के मेन्टेनेंस, रिपेयर और ओवरहॉल का काम आ जाए तो सोने पर सुहागा होगा। उन्होंने कहा कि इससे क्षेत्र और प्रदेश की प्रगति को बढ़ावा मिलेगा और इसको लेकर उन्होंने रक्षा मंत्री से चर्चा की है। इसके अलावा प्रदेश सरकार गुरुग्राम के ग्लोबल सिटी प्रोजेक्ट में हेलीपैड और देश का पहला एयरो म्यूजियम बनाने की योजना बना रही है, इन तमाम मुद्दों को लेकर केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से चर्चा हुई है।
वहीं श्री दुष्यंत चौटाला ने हिसार के अलावा प्रदेश के चार अन्य रनवे से भी यात्री हवाई उड़ानें शुरू करने के लिए केंद्रीय मंत्री से चर्चा की। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने आज हिसार रनवे को चंडीगढ़, धर्मशाला, देहरादून की ओर उड़ान से जोड़ा है। इसी तरह अगर करनाल, हिसार, भिवानी रनवे को भी परमिट मिलेंगे तो यहां से नये प्लेन उड़ेंगे। श्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि अगर इन रनवे से जम्मू के लिए उड़ान होंगी तो कोई प्लेन यहां से खाली नहीं जाएगा।
हरियाणा में कर्मचारियों और श्रमिकों की बेहतर मेडिकल सुविधा के लिए खुलने वाले नए प्रस्तावित ईएसआई अस्पतालों और डिस्पेंसरी का जल्द से जल्द निर्माण करवाने को लेकर भी उपमुख्यमंत्री केंद्रीय श्रम मंत्री श्री भूपेंद्र यादव से मुलाकात करेंगे। इस बारे डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने बताया कि हरियाणा में चार ईएसआई अस्पताल और तीन डिस्पेंसरी बनाई जानी हैं । इनके अलावा ईएसआई से संबंधित अन्य प्रोजेक्ट्स को गति देने के लिए वे केंद्रीय श्रम मंत्री से मुलाकात करेंगे और इन पर चर्चा करेंगे।
उन्होंने कहा कि संसद का मानसून सत्र चल रहा है और केंद्रीय मंत्रीमंडल में नये मंत्री शामिल हुए हैं और उनके विभागों से जुड़े केंद्रीय मंत्रियों से वे निरंतर मुलाकात कर रहे हैं और आने वाले दिनों में भी यह मुलाकात का सिलसिला जारी रहेगा। केंद्र से संबंधित राज्य के पेंडिंग प्रोजेक्ट्स को जल्द पूरा करना ही मुलाकात का मकसद है

चण्डीगढ, 20 जुलाई- हरियाणा सरकार ने आज हरियाणा सिविल सचिवालय के 5 निजी सचिवों को मंत्री के सचिव के पद पर पदोन्नत किया है।
पदोन्नत होने वाले निजी सचिवों में राम कुमार, सुजाता शर्मा, शिव कुमार, सुमित्रा देवी और सज्जन सिंह शामिल हैं।

राज्य शिक्षक अवार्ड 2021 के लिए आवेदन आमंत्रित
चण्डीगढ 20 जुलाई – शिक्षा विभाग द्वारा राज्य शिक्षक पुरस्कार 2021 के लिए प्रदेश के योग्य शिक्षकों से ऑनलाईन आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। पात्र शिक्षक विभाग की वैबसाईट पर उपलब्ध लिंक पर क्लिक करके 31 जुलाई तक ऑनलाईन आवेदन कर सकते हैं। राज्य शिक्षक पुरस्कार 2021 के लिए एन्क्सचर-1 में शिक्षकों के लिए निर्धारित योग्यता एवं शर्तें व एन्क्सचर-2 में पुरस्कारों की संख्या तथा एन्क्सचर-3 में विभिन्न श्रेणी के शिक्षकों हेतू निर्धारित मापदंड विभागीय साईट पर उपलब्ध करवाए गए हैं। योजना के तहत राज्य स्तर पर सेकंडरी शिक्षा में 20 पुरुष व 20 महिलाएं शिक्षकों एवं प्राथमिक शिक्षा के तहत 25 पुरुष व 25 महिला शिक्षकों को शिक्षक दिवस के अवसर पर इस पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।
सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि हरियाणा में राज्य स्तरीय शिक्षक पुरस्कार के लिए शिक्षकों का चयन पहले से अधिक एकरूपता और पारदर्शिता के साथ किया जाएगा। शिक्षकों के नाम की सिफारिश के लिए सरकार ने अब जिला स्तरीय समितियों को खत्म कर दिया है। इन पुरस्कारों के लिए शिक्षकों के नाम की सिफारिश अब स्कूल शिक्षा निदेशालय द्वारा मुख्यालय स्तर पर गठित समितियां ही करेगी। शिक्षकों को पुरस्कार के दावे के लिए ऑनलाइन ही आवेदन करना होगा। विभागीय लिंक पर स्वयं नामांकन करने के लिए आवेदक शिक्षक का पासवर्ड एवं ओटीपी उसके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ही प्राप्त होगा। आवेदनकर्ता शिक्षक अपना पूरा विवरण तीन एमबी की पीडीएफ फाईल के साथ लिंक पर अपलोड कर सकता है। इससे अधिक एमबी की फाईल होने पर उसे गूगल ड्राइव पर अपलोड करना होगा। शिक्षक फाईल को अपलोड करने से पहले उसमें फेरबदल कर सकेंगे। अगर लिंक या पोर्टल में कोई तकनीकी दिक्कत आती है तो शिक्षक विभाग की ईमेल आईडी पर अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।

चण्डीगढ, 20 जुलाई – हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा कृषि यंत्र जैसे सुपर एसएमएस, हैप्पी सीडर, पैडी स्ट्रा, चोपर/सरेडर/मल्चार, शर्ब मास्टर, रोटरी स्लेसर, रिवर्सिबल मोल्ड बोर्ड पलो, जीरो टिल सीड ड्रील, स्ट्रा बेलर, हेरेक, सुपर सीडर, स्वचालित ट्रेक्टर चलित क्राप रिपर आदि निर्माताओं को यंत्र खरीदने के लिए वर्ष 2021-22 के लिए अनुमोदित करने हेतु आवेदन आमंत्रित किए हैं।
विभाग के प्रवक्ता ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि विभाग द्वारा गत वर्ष अनुमोदित किए गए कृषि यंत्र से निर्धारित किए गए मूल्यों पर चालु वित्त वर्ष 2021-22 में भी अनुमोदित किया जाता है, से उन्हें दोबारा आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है जो कृषि यंत्र निर्माता वित्त वर्ष 2020-21 मेंं अनुमादित नहीं थे तथा केन्द्र सरकार द्वारा अधिकृत टेस्टिंग संस्थानों से निर्धारित टेस्टिंग शर्तों को पूरा करते हैं, ऐसे कृषि यंत्र निर्माता प्रदेश सरकार द्वारा अनुमोदित दरों पर सप्लाई करने के इच्छुक हैं तो वे भी आवेदन कर सकते हैं ।
उन्होंने बताया कि कृषि यंत्र निर्माता अपना आवेदन, टेस्ट रिपोर्ट व शपथ पत्र सहित निदेशालय कृषि एवं किसान कल्याण विभाग, सैक्टर-21 पंचकूला में 27 जुलाई, 2021 तक किसी भी कार्य दिवस को जमा करवा सकते हैं। योजना की अधिक जानकारी के लिए विभाग की वेबसाइट www.agriharyana.gov.in पर अथवा हेल्पलाइन नंबर 0172-2571553, 2571544 व 2576210 पर संपर्क कर सकते हैं

चण्डीगढ़, 20 जुलाई-हरियाणा के परिवहन मंत्री श्री मूलचंद शर्मा ने आज बल्लभगढ़ विधानसभा क्षेत्र में चल रहे विभिन्न विकास कार्यों की प्रगति की समीक्षा करने और इन कार्यों को गति देने के मकसद से आज नगर एवं ग्राम आयोजना विभाग तथा हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के अधिकारियों के साथ बैठक की।
बैठक के दौरान बताया गया कि फरीदाबाद के सेक्टर-61 में बनाए जा रहे ट्रांसपोर्ट नगर में सडक़ों, जलापूर्ति, सीवरेज, बरसाती पानी की निकासी का काम पूरा हो चुका है। फेज-1 में पेवमेंट और पार्किंग का कार्य प्रगति पर है, जो इस साल 31 दिसम्बर तक पूरा हो जाएगा। इस दौरान यह भी बताया गया कि विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत पडऩे वाले विभिन्न सेक्टरों में सडक़ों की मरम्मत व रि-कारपेटिंग के लिए तकरीबन 18 करोड़ रुपये का एस्टीमेट बनाकर सीसीएफ, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण को भेजा गया है।
परिवहन मंत्री श्री मूलचंद शर्मा ने बैठक के दौरान सेक्टर-2 में जमीन की नीलामी करवाने, सेक्टर-65 में मार्केट के विकास, सेक्टर-2 में अर्बन हैल्थ सेंटर/ पॉलिक्लिनिक, पुलिस चौकी तथा सेक्टर-64 में जिमखाना क्लब व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से जुड़े तमाम मुद्दों पर चर्चा की और अधिकारियों को इन कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए।
बैठक में नगर एवं ग्राम आयोजना विभाग के प्रधान सचिव श्री ए. के. सिंह, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के मुख्य प्रशासक श्री अजित बाला जी जोशी, एचएसवीपी, फरीदाबाद के प्रशासक श्री कृष्ण कुमार, चीफ इंजीनियर वाई.एस. मेहरा और एस.ई. श्री राजीव शर्मा तथा अरूण कुमार भी मौजूद रहे।

चण्डीगढ़, 20 जुलाई-हरियाणा के खान एवं भू-विज्ञान विभाग ने फरीदाबाद जिले में रेत की चार खानों की सफल नीलामी के बाद अब जिला महेंद्रगढ़ के गांव राजावास व गढ़ी में पत्थर की खानों के आवंटन का निर्णय लिया है। इन खानों के आवंटन के लिए आगामी 4 अगस्त को ई-नीलामी के माध्यम से बोली लगाई जाएगी।
प्रदेश के खान एवं भू-विज्ञान मंत्री श्री मूलचंद शर्मा ने बताया कि ई-नीलामी में भाग लेने के लिए इच्छुक व्यक्तियों को 2 अगस्त को सायं 5 बजे तक ई-नीलामी पोर्टल पर पंजीकरण करने के बाद आईडी बनवाकर संबंधित कागजात अपलोड करने होंगे। साथ ही, उन्हें 2 अगस्त को सायं 5 बजे तक ई-सेवा शुल्क व ईएमडी राशि भी जमा करवानी होगी।
उन्होंने बताया कि ई-नीलामी में भाग लेने के लिए इच्छुक व्यक्तियों को 2 अगस्त को सायं 5 बजे तक ई-नीलामी पोर्टल पर पंजीकरण करने के बाद आईडी बनवाकर संबंधित कागजात अपलोड करने होंगे। साथ ही, उन्हें 2 अगस्त को सायं 5 बजे तक ई-सेवा शुल्क व ईएमडी राशि भी जमा करवानी होगी। इस संबंध में किसी प्रकार की जानकारी के लिए मोबाइल नंबर 7291981125, 9015145373, 9953126803 व 7291981127 पर सम्पर्क किया जा सकता है। इसके अलावा, जिला खनन अधिकारी कार्यालय से भी जानकारी हासिल की जा सकती है।
श्री मूलचंद शर्मा ने बताया कि प्रदेश में काफी लम्बे समय के बाद विभिन्न खनन इकाइयों की नीलामी शुरू हुई है। इससे पत्थर व रेत की चोरी पर लगाम लगेगी और लोगों को निर्माण कार्यों के लिए सस्ता रेत उपलब्ध होगा। साथ ही, इससे आसपास के क्षेत्र में हजारों लोगों को रोजगार भी मिलेगा। उन्होंने बताया कि इससे पहले फरीदाबाद जिले में रेत की चार खानों की नीलामी करवाई जा चुकी है।
उन्होंने बताया कि जिला फरीदाबाद में यूनिट संख्या-1 ददासिया-किरनवाली के लिए आरक्षित मूल्य 14.66 करोड़ रुपये निर्धारित किया गया था, जिसके लिए उच्चतम बोली 14.96 करोड़ रुपये की लगी। यूनिट संख्या-2 महावतपुर-बसकोला के लिए 7.73 करोड़ रुपये के आरक्षित मूल्य के समक्ष अधिकतम बोली 9.43 करोड़ रुपये की रही। इसी तरह, यूनिट संख्या-3 अमीपुर के लिए 15.96 करोड़ रुपये रिजर्व प्राइस के समक्ष अधिकतम बोली 16.26 करोड़ रुपये जबकि यूनिट संख्या-4 माखनपुर के लिए 9.78 करोड़ रुपये के आरक्षित मूल्य के समक्ष अधितम बोली 9.89 करोड़ रुपये की लगी। इस तरह से विभाग को इन खनन इकाइयों के आवंटन से आरक्षित मूल्य पर लगभग 50.54 करोड़ रुपये का लाभ होगा।
खान एवं भू-विज्ञान मंत्री ने कहा कि इन खनन इकाइयों की नीलामी होने से रेत की चोरी पर लगाम लगेगी और लोगों को निर्माण कार्यों के लिए सस्ता रेत उपलब्ध होगा। साथ ही, इससे आसपास के क्षेत्र में हजारों लोगों को रोजगार भी मिलेगा।

चंडीगढ़, 20 जुलाई- हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड,भिवानी द्वारा शैक्षिक सत्र 2021-22 के लिए सैकेण्डरी व सीनियर सैकेण्डरी कक्षा का पाठ्यक्रम 30 प्रतिशत कम करने का निर्णय लिया गया है। नया पाठ्यक्रम बोर्ड की अधिकारिक वेबसाइट www.bseh.org.in पर उपलब्ध है।
बोर्ड अध्यक्ष प्रो.जगबीर सिंह ने यह जानकारी देते हुए बताया कि इस वर्ष भी उक्त दोनों कक्षाओं का पाठ्यक्रम 30 प्रतिशत तक कम किया गया है। उन्होंने बताया कि ऐसा इसलिए किया गया है कि कोरोना महामारी के कारण विद्यालय पूर्ण रूप से नहीं खुल पाए, जिसके कारण विद्यार्थियों की शिक्षा बाधित हुई है। ज्ञात रहे कि पिछले वर्ष सीबीएसई बोर्ड की भांति हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड द्वारा भी कोविड-19 महामारी के चलते सैकेण्डरी व सीनियर सैकेण्डरी कक्षाओं का पाठ्यक्रम 30 प्रतिशत कम किया गया था।
उन्होंने निर्देश दिए कि सभी विद्यालय मुखिया व विद्यार्थी अपलोड किए गए पाठ्यक्रम को डाउनलोड करके कम किए गए पाठ्यक्रम अनुसार ही परीक्षाओं की तैयारी करना सुनिश्चित करें

चंडीगढ़, 20 जुलाई – हरियाणा सरकार ने संस्कृत भाषा में विभिन्न पुरस्कार प्राप्त करने वाले विद्वानों को भी हरियाणा रोडवेज की बसों में नि:शुल्क यात्रा करने की सुविधा प्रदान करने का निर्णय लिया है, इसके लिए हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने स्वीकृति दे दी है।
हरियाणा संस्कृत अकादमी के निदेशक डॉ. दिनेश शास्त्री ने बताया कि राज्य सरकार संस्कृत भाषा के विकास के लिए निरन्तर प्रयासरत है। इस दिशा में कई कदम उठाए गए हैं। प्रदेश के सरकारी संस्कृत कॉलेजों, संस्कृत बोर्ड के गठन के अलावा संस्कृत विश्वविद्यालय की स्थापना की गई है। मुख्यमंत्री ने हरियाणा संस्कृत अकादमी के माध्यम से प्रदेश के संस्कृत महाविद्यालयों व गुरुकुलों में अध्यापन का कार्य करने वाले संस्कृत के उत्कृष्ट आचार्यों व गुरुकुल संचालकों के लिए गुरु विरजानंद आचार्य सम्मान, विद्यामार्तण्ड पं. सीताराम शास्त्री सम्मान, पं. युधिष्ठिर मिमांसक आचार्य सम्मान, स्वामी धर्मदेव संस्कृत समाराधक सम्मान देना शुरू किया।
डॉ. दिनेश शास्त्री ने बताया कि आचार्यों सम्मानों की श्रेणी में अब तक 29 आचार्यों और गुरुकुल संचालकों का सम्मानित किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि वर्ष 2017 व 2018 के लिए पुरस्कारों की घोषणा अकादमी द्वारा पहले ही कर दी गई है, शीघ्र ही सभी विद्वानों को भी सम्मानित किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि हरियाणा संस्कृत अकादमी ने संस्कृत विद्वानों के लिए यू-टयूब चैनल की सुविधा शुरू कर दी है और जल्द ही संस्कृत विद्वानों के लिए ऐप भी शुरू की जा रही है। इसके अलावा, हरियाणा संस्कृत अकादमी द्वारा निकाली जाने वाली पत्रिका हरिप्रभा को भी ऑनलाइन किया जाएगा।

अंबाला में एलईडी लाईटों के साथ-साथ हाई मास्ट लाईटें भी लगाई जायेंगी- शहरी स्थानीय निकाय मंत्री*
इस योजना पर 17 करोड़ 95 लाख रूपये की राशि होगी खर्च- अनिल विज
चंडीगढ़, 20 जुलाई- हरियाणा के शहरी स्थानीय निकाय मंत्री श्री अनिल विज कहा कि अंबाला छावनी सदर क्षेत्र में एलईडी लाईटस के साथ-साथ हाई मास्क लाईटस लगाई जायेंगी जिस पर 17 करोड़ 95 लाख रूपये की राशि खर्च की जायेगी। उन्होंने बताया कि अम्बाला सदर क्षेत्र में जितनी भी पुरानी सोडियम, टयूब लाईट व सीएफएल लाईटें लगी हैं उन सभी को एलईडी में बदला जायेगा तथा सदर में लगी सभी लाईटों को सीसीएमएस पैनल व स्काडा सिस्टम से कनैक्ट किया जायेगा।
उन्होंने कहा कि इन लाईटों के लगने के बाद सदर क्षेत्र की सुंदरता बढेगी और लोगों को आवागमन में आसानी होगी। इन लाईटों से बाजार भी जगमग होंगे ।
शहरी स्थानीय निकाय मंत्री ने बताया अमरूत स्कीम के तहत 17 करोड़ 95 लाख रूपये की लागत से लगभग 11592 एलईडी लाईटें लगाने का कार्य किया जा रहा है,
उल्लेखनीय है कि अंबाला के जिन क्षेत्रों में हाई मास्क लाईटें लगाई जायेंगी उनमें शास्त्री कालोनी में तीन, भगत सिंह चौक, फुटबाल चौक, ब्रहमकुमार चौक, कैपिटल चौक, सेवा समिति चौक, अकालगढ़ गुरूद्वारा चौक (बब्याल), दयाल बाग चौक, टुंडला मंडी चौक, गुरूद्वारा चौक डिफैंस कालोनी, सैक्टर-ए चौक, डिफैंस कालोनी, कलरेहडी चौक, रामपुर चौक, डा0 ओम प्रकाश शर्मा अस्पताल चौक बब्याल, खुखरैन धर्मशाला चौक ओपोजीट सुभाष पार्क, हाउसिंग बोर्ड में, मिलाप नगर (नन्हेडा), सरकारी स्कूल मच्छौंडा, विजयरतन चौक, चंद्रपुरी नजदीक शिव मंदिर, दलीपनगर नजदीक गुगा मेडी, महेशनगर नजदीक वाटर वर्कस के पास व करधान/सलारहेड़ी चौक पर एक-एक हाई मास्क लाईटें लगाई जानी शामिल है।

चंडीगढ़, 20 जुलाई- सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री श्री ओमप्रकाश यादव ने कहा कि सैनिकों के कल्याण के लिए राज्य के 8 जिलों में ‘एकिकृत सैनिक सदन’ बनाए जाएंगे। इनके निर्माण पर करीब 100 करोड़ रुपए की राशि खर्च होगी।
श्री यादव ने आज सैनिक, अर्ध सैनिक कल्याण विभाग के अधिकारियों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि नारनौल, पलवल, पानीपत, झज्जर, जीन्द, नूहं, फतेहाबाद तथा रेवाड़ी जिलों में सैनिक सदनों का चरणबद्ध तरीके से निर्माण करवाया जाएगा। इनमें से कुछ जिलों में सदनों के निर्माण का कार्य शीघ्र शुरू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कौसली और दादरी सैनिक रैस्ट हाऊस का निर्माण कार्य लगभग 80 प्रतिशत हो चुका है. बाकि बचे कार्य को शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं।
सैनिक कल्याण राज्यमंत्री ने कहा कि प्रत्येक सैनिक सदन के निर्माण पर करीब 12 करोड़ रुपए की राशि खर्च होगी। इनमें सैनिक विश्राम गृह, जिला सैनिक एवं अर्ध सैनिक कल्याण कार्यालय, सामुदायिक हाल, पॉलीक्लीनिक्स, सीएसडी कैंटीन, स्टील्ट पार्किंग सहित अन्य व्यवस्था की जाएगी। इनमें लिफ्ट एवं रैम्प का प्रावधान भी किया जाएगा। उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा सेवानिवृत एवं सेवारत सैनिकों का डाटा तैयार करेंगे, जिसे विभाग की वेबसाइट पर अपलोड किया जाएगा। इसके साथ ही विभाग में आईटी सैल बनाया जाएगा, जोकि पूरी गतिविधियों को अपडेट रखेगा।
श्री यादव ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि वे विभाग की ढांचागत व्यवस्था को सुदृड़ करने के लिए राज्य स्तर तथा जिला स्तर पर अधिकारियों एवं कर्मचारियों को लगाएं। इसके साथ ही उन्होंने रेवाड़ी के सैनिक स्कूल तथा ईसीएच अस्पताल के भवन निर्माण संबंधी जानकारी प्राप्त की और उसे शीघ्र तैयार करवाने के आदेश दिए। उन्होंने पंचकूला रैस्ट हाऊस सहित राज्य के अन्य रैस्ट हाऊस की स्थिति की जानकारी प्राप्त की तथा इनके संबंध में त्वरित कार्रवाई करने के निर्देश दिए।
बैठक में विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री वी एस कुंडू, निदेशक श्रीमती शरणदीप कौर बराड़ सहित विभाग के अन्य अधिकारी मौजूद थे।

हरियाणा सरकार ने उपमंडल अस्पतालों के स्तर पर भी दिव्यांगता प्रमाण-पत्र की अनुमति देने का लिया निर्णय
चण्डीगढ़, 20 जुलाई- हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री श्री अनिल विज ने कहा कि राज्य सरकार ने सिविल अस्पताल के अलावा उपमंडल अस्पतालों के स्तर पर भी दिव्यांगता प्रमाण-पत्र की अनुमति देने का निर्णय लिया है।
श्री विज ने बताया कि दिव्यांग व्यक्तियों के अधिकार अधिनियम, 2016 के प्रावधानों के तहत इस निर्णय से दिव्यांग व्यक्तियों के घरों के पास स्थित विभिन्न सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों में मेडिकल बोर्ड द्वारा दिव्यांग व्यक्तियों का मूल्यांकन और प्रमाणित करने में सुविधा व लाभ मिलेगा।

चंडीगढ़, 20 जुलाई- हरियाणा सरकार ने तुरंत प्रभाव से आईएएस अधिकारी मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव, सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक और सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा तथा ग्रीवांस विभाग के सचिव डॉ. अमित अग्रवाल को उनके वर्तमान कार्यभार के अलावा मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी कार्यक्रम के परियोजना निदेशक का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा है।

चण्डीगढ, 20 जुलाई-हरियाणा की महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री श्रीमती कमलेश ढांडा ने कहा कि राज्य सरकार ने महिला सशक्तिकरण व समाज में रोल मॉडल के रूप में कार्य करने व विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय उपलब्धियां प्राप्त करने वाली महिलाओं से राज्य स्तरीय महिला पुरस्कार के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं।
श्रीमती ढांडा ने आज इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि जिन पुरस्कारों के आवेदन आमंत्रित किए गए हैं, उनमें इंदिरा गांधी महिला शक्ति पुरस्कार, कल्पना चावला शौर्य पुरस्कार, बहन शन्नो देवी पंचायती राज पुरस्कार, लाईफटाईम अचीवर्स अवार्ड तथा एएनएम / नर्स/ महिला एमपीडब्लयू (पुरस्कार की संख्या दो) व महिला खिलाड़ी शामिल हैं। इसी प्रकार, साक्षर महिला समूह सदस्य (पुरस्कार की संख्या दो), सरकारी कर्मचारी (पुरस्कार की संख्या दो), सामाजिक कार्यकर्ता (पुरस्कार की संख्या दो) तथा महिला उद्यमी (पुरस्कार की संख्या दो) के लिए भी आवेदन आमंत्रित किए गए हैं।
उन्होंने बताया कि पुरस्कार स्वरूप प्रशस्ति पत्र 21 हजार से 1 लाख 50 हजार रुपए राशि तक की नकद राशि दी जाएगी। इसके लिए महिलाएं 18 अक्तूबर,2021 तक आवेदन कर सकती हैं। आवेदन के लिए योग्यताएं व शर्तें विभाग की वेबसाइट www.wcdhry.gov.in पर उपलब्ध है।
उन्होंने बताया कि सम्पूर्ण बायोडाटा के साथ उत्कृष्ट महिलाओं द्वारा समाज में दिए गए अपने योगदान की विस्तृत जानकारी के साथ आवेदन संबंधित जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास कार्यालय के माध्यम से भेजे जा सकते हैं। ये पुरस्कार प्रत्येक वर्ष अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर राज्य स्तरीय समारोह में दिए जाते हैं।

खावसपुर बिल्डिंग हादसा- मुख्यमंत्री ने की मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये देने की घोषणा
हादसे में घायल व्यक्तियों को भी 1-1 लाख रुपये आर्थिक सहायता देने की घोषणा
चंडीगढ़, 20 जुलाई- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने 18 जुलाई को गुरुग्राम जिले के खावसपुर गांव में तीन मंजिला इमारत गिरने के दर्दनाक हादसे पर शोक व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये एक्सग्रेशिया राशि देने की घोषणा की है। इसके अलावा, गंभीर रूप से घायलों को भी 1-1 लाख रुपये देने की घोषणा की है।