महात्मा फुले को भारतरत्न देने की मांग

फरीदाबाद, बी डी कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश न्यूज नेटवर्क।महात्मा ज्योतिराव फुले जयंती (11 अप्रैल) के उपलक्ष्य में ग्राम चंदावली में आयोजित कार्यक्रम के दौरान महान समाज सुधारक महात्मा ज्योतिराव फुले जी, जोकि महात्मा गांधी और भीमराव अंबेडकर जी के भी गुरु और आदर्श थे, को भारत रत्न देने की मांग उठाई गई। महात्मा जोतिराव गोविंदराव फुले (11 अप्रैल 1827 – 28 नवम्बर 1890) एक भारतीय समाजसुधारक, समाज प्रबोधक, विचारक, समाजसेवी, लेखक, दार्शनिक तथा क्रान्तिकारी कार्यकर्ता थे। इन्हें महात्मा फुले एवं ”जोतिबा फुले के नाम से भी जाना जाता है। महिलाओं व दलितों के उत्थान के लिय इन्होंने अनेक कार्य किए। समाज के सभी वर्गो को शिक्षा प्रदान करने के ये प्रबल समथर्क थे। वे भारतीय समाज में प्रचलित जाति पर आधारित विभाजन और भेदभाव के विरुद्ध थे।इस कार्य्रकम में महात्मा ज्योतिराव फुले समिति के अध्यक्ष श्री सुनील सैनी, महासचिव प्रदीप राठौर एडवोकेट, सचिव सुनील कुमार, लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी के जिलाध्यक्ष खेमचंद सैनी, वरिष्ठ समाज सेवी श्री हरिराम सैनी, राजेन्दर कुमार, पवन सैनी, मुकेश कुमार व

समाज के अन्य गणमान्य व्यक्ति उपश्थित थे। इसी कार्यक्रम के दौरान समाज मे व्यापत अनेक कुरीतियों को दूर करने के बारे में चर्चा की गई।