बडखल विधानसभा के अनखीर गांव में मुख्य मार्ग पर अवैध कब्जों से हुआ जीना मुहाल।

बडखल विधानसभा अनखीर गांव में मुख्य मार्ग पर अवैध कब्जों से हुआ जीना मुहाल।
फरीदाबाद/ बी डी कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश न्यूज नेटवर्क।फरीदाबाद/ फास्ट मीडिया बी डी कौशिक। फरीदाबाद बड़खल विधानसभा नगर निगम के वार्ड नंबर 18 में पड़ने वाला गांव अनखीर इन दिनों मुख्य मार्ग पर अवैध कब्जों सब्जी और फल मंडी तथा रेहड़िया लगाने वालों से परेशान हैं जो कि यहां की नहर जो कि अब नाला बन चुकी है और इस पर अभी बडे़ पाइप डाल कर मिट्टी से दबाए गए हैं सब्जीऔर फल मंडी उसके ऊपर लगाई जाती है और बड़खल झील की तरफ से आने वाला रोड पूरी तरह से कब्जा किया हुआ है इसकी वजह से आज के कोविड-19 के दौर भारी भीड़ लगती है इसमें ना तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो रहा है और सड़क पर कब्जा होने से वाहन ही निकल पा रहे है जिससे पछरा दिन जाम की स्थिति रहती है यह कारनामा पुलिस की नाक के नीचे हो रहा है क्योंकि यहां से अनखीर पुलिस चौकी की दूरी महज 100 कदम पर ही है यहां गांव के बाहर जिन कुछ लोगों की दुकानें हैं या अवैध कब्जे हैं उन्होंने ही इन रेहड़ी पटरी वालों और अवैध रूप से सब्जी मंडी लगाने वालों से मनमाने ढंग से सेटिंग करके मंथली तय की हुई है इस ओर प्रशासन का ध्यान बिल्कुल भी नहीं जा रहा है और पुलिस आयुक्त का कार्यालय भी यहां से ज्यादा से ज्यादा आधा किलोमीटर दूरी पर ही सेक्टर 21 सी में स्थित है अगर इसी तरह से चलता रहा तो कोरोना का भयंकर प्रकोप अनखीर गांव में कभी भी फैल सकता है और इस रोड से होकर आने जाने वाले वाहनों के ड्राइवर भी हर रोज का झगड़ा करते रहते हैं अपना नाम ना लिखने की शर्त पर यहां के निवासियों ने बताया कि यह सब गौरख धंधा कुछ स्थानीय दबंगों, पुलिस और नगर निगम अधिकारियों की मिली भगत से चलाया जा रहा है जो यहां से मोटा सुविधा शुल्क वसुलते हैं लोगों ने ये भी बताया कि ये एक सिंडीकेट है जिसमे कुछ स्थानीय अपराधी, पुलिस, नगरनिगम और नेता मिल कर चला रहे।जिसमे फल-सब्जी,चिकन मीट,और साप्ताहिक बाजार लगते हैं इन साप्ताहिक बाजारों में अधिकांश दुकानदार दिल्ली के होते हैं और बाजार लगाने की एक तय कीमत अदा करते हैं ये साप्ताहिक बाजार गांव फतेहपुर चंदीला,अनखीर, सेक्टर 48 में लगाये जाते हैं जिससे ना सिर्फ जाम अपितु कोरोना फैलने का भी भयंकर खतरा है पुलिस प्रशासन एक तरफ तो बाईक और कार में मास्कना पहनने वालोें लोगों के चालान काट रही है और दूसरी तरफ अवैध तरीके से ये बाजार लगवा रही है इस पर फरीदाबाद के उपायुक्त महोदय,पुलिस आयुक्त महोदय को ध्यान देना चाहिए और इन अवैध बाजारों को तुरंत प्रभाव से हटाना चाहिए। विधानसभा नगर निगम के वार्ड नंबर 18 में पड़ने वाला गांव अनखीर इन दिनों मुख्य मार्ग पर अवैध कब्जों सब्जी और फल मंडी तथा रेहड़िया लगाने वालों से परेशान हैं जो कि यहां की नहर जो कि अब नाला बन चुकी है और इस पर अभी बडे़ पाइप डाल कर मिट्टी से दबाए गए हैं सब्जीऔर फल मंडी उसके ऊपर लगाई जाती है और बड़खल झील की तरफ से आने वाला रोड पूरी तरह से कब्जा किया हुआ है इसकी वजह से आज के कोविड-19 के दौर भारी भीड़ लगती है इसमें ना तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो रहा है और सड़क पर कब्जा होने से वाहन ही निकल पा रहे है जिससे पछरा दिन जाम की स्थिति रहती है यह कारनामा पुलिस की नाक के नीचे हो रहा है क्योंकि यहां से अनखीर पुलिस चौकी की दूरी महज 100 कदम पर ही है यहां गांव के बाहर जिन कुछ लोगों की दुकानें हैं या अवैध कब्जे हैं उन्होंने ही इन रेहड़ी पटरी वालों और अवैध रूप से सब्जी मंडी लगाने वालों से मनमाने ढंग से सेटिंग करके मंथली तय की हुई है इस ओर प्रशासन का ध्यान बिल्कुल भी नहीं जा रहा है और पुलिस आयुक्त का कार्यालय भी यहां से ज्यादा से ज्यादा आधा किलोमीटर दूरी पर ही सेक्टर 21 सी में स्थित है अगर इसी तरह से चलता रहा तो कोरोना का भयंकर प्रकोप अनखीर गांव में कभी भी फैल सकता है और इस रोड से होकर आने जाने वाले वाहनों के ड्राइवर भी हर रोज का झगड़ा करते रहते हैं अपना नाम ना लिखने की शर्त पर यहां के निवासियों ने बताया कि यह सब गौरख धंधा कुछ स्थानीय दबंगों, पुलिस और नगर निगम अधिकारियों की मिली भगत से चलाया जा रहा है जो यहां से मोटा सुविधा शुल्क वसुलते हैं लोगों ने ये भी बताया कि ये एक सिंडीकेट है जिसमे कुछ स्थानीय अपराधी, पुलिस, नगरनिगम और नेता मिल कर चला रहे।जिसमे फल-सब्जी,चिकन मीट,और साप्ताहिक बाजार लगते हैं इन साप्ताहिक बाजारों में अधिकांश दुकानदार दिल्ली के होते हैं और बाजार लगाने की एक तय कीमत अदा करते हैं ये साप्ताहिक बाजार गांव फतेहपुर चंदीला,अनखीर, सेक्टर 48 में लगाये जाते हैं जिससे ना सिर्फ जाम अपितु कोरोना फैलने का भी भयंकर खतरा है पुलिस प्रशासन एक तरफ तो बाईक और कार में मास्कना पहनने वालोें लोगों के चालान काट रही है और दूसरी तरफ अवैध तरीके से ये बाजार लगवा रही है इस पर फरीदाबाद के उपायुक्त महोदय,पुलिस आयुक्त महोदय को ध्यान देना चाहिए और इन अवैध बाजारों को तुरंत प्रभाव से हटाना चाहिए।