दिल्ली में थम नहीं रहा कोरोना का कहर, 7340 नए मरीज, 96 मौतें

दिल्ली में कोरोना की तीसरी लहर ज्यादा खतरनाक हो चुकी है, सिर्फ 24 घंटे में 7340 लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं, जबकि कोरोना संक्रमण से दिल्ली में 96 लोगों ने दम तोड़ा है.

देश में कोरोना की रफ्तार धीमी पड़ी है मगर हालात अब भी चिंताजनक हैं, बात अगर 24 घंटे में कोरोना संक्रमितों की संख्या की हो तो 24 घंटे में देश में 30,548 लोग संक्रमित हुए हैं. 24 घंटे में 435 लोगों ने कोरोना संक्रमण से दम तोड़ा है, इसी के साथ देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 1,30,070 पहुंच गई है. जबकि 24 घंटे में ही 43,851 लोगों ने कोरोना संक्रमण को मात दी है. देश में 88,45,127 लोगों को अबतक कोरोना हो चुका है, जबकि इनमें से 82,49,579 लोगों ने कोरोना को मात दी है.

 

दिल्ली में कोरोना की तीसरी लहर ज्यादा खतरनाक हो चुकी है, सिर्फ 24 घंटे में 7340 लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं, जबकि कोरोना संक्रमण से दिल्ली में 96 लोगों ने दम तोड़ा है. दिल्ली में अबतक 4 लाख 82 हजार से ज्यादा लोगों को कोरोना हुआ जिसमें से 4 लाख 30 हजार से ज्यादा लोग ठीक हो गए हैं. कोरोना संक्रमण से दिल्ली में अबतक 7519 लोगों की मौत हुई है.

 

दिल्ली में बढ़ती कोरोना की रफ्तार के मद्देनजर गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्ली सरकार के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के साथ आपातकालीन बैठक की. इस बैठक में उपराज्यपाल भी मौजूद थे.

 

बैठक में गृह मंत्री ने निर्देश दिए कि…

 

RT-PCR टेस्ट में दो-गुना वृद्धि की जाए.

जहां कोविड का खतरा ज्यादा है वहां मोबाइल टेस्टिंग वैन तैनात किए जाएं.

DRDO के कोविड अस्पताल में 250 से 300 ICU बेड और शामिल किए जाएं.

MCD के कुछ अस्‍पतालों को कम लक्षण वाले मरीजों के लिए इस्तेमाल किया जाए.

CAPF से दिल्ली सरकार को डॉक्टर और पैरा मेडिकल स्टाफ मुहैया कराए जाएं.

केंद्र सरकार दिल्ली को जरूरी उपकरण उपबल्ध कराए.

ऑक्सीजन की सुविधा वाले बेडों की उपलब्धता बढ़ाने के उद्देश्‍य से छतरपुर के 10,000 बेड वाले कोविड सेंटर को और सशक्त किया जाएगा.

 

अमित शाह की बैठक के बाद सियासत गर्म हो गई. दिल्ली में कोरोना के बढ़ते केस को लेकर आम आदमी पार्टी और बीजेपी में जबरदस्त सियासी घमासान मचा हुआ है. दिल्ली बीजेपी ने फौरन केजरीवाल सरकार पर निशाना साध लिया. गौतम गंभीर ने लिखा, ‘नमस्कार दिल्ली, मैं अरविंद केजरीवाल बोल रहा हूं. कोविड महामारी को रोकने में मैं एक बार फिर विफल रहा हूं. मई की तरह दोबारा हमें अमित शाह जी ही बचाएंगे. आपका अपना विज्ञापन वाला मुख्यमंत्री.’

यही नहीं, बीजेपी सांसद गौतम गंभीर ने ट्वीट में लिखा कि MCD अपने हवाले मांगने वालों, अगर ‘आप’ (आम आदमी पार्टी) से कोरोना नहीं संभलता, प्रदूषण नहीं संभलता तो खुद कुर्सी क्यों नहीं छोड़ते. बीजेपी नेता भोला सिंह ने भी कहा है कि दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण और कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए दिल्ली सरकार को दिल्ली में कुछ दिन लॉक डाउन लगाने पर विचार करना चाहिए.

 

गौरतलब है कि अरविंद केजरीवाल अब तक प्रदूषण को कोरोना के बढते मामलों की वजह बताते आए हैं. लेकिन अमित शाह की बैठक के बाद दिल्ली सरकार ने प्रदूषण का कहीं नाम नहीं लिया.

 

कोरोना काल में आज से महाराष्ट्र के सभी धर्मस्थल खुल गए. धर्मस्थलों को खोलने से पहले उद्धव सरकार ने कोरोना से जुड़े नियम बनाए हैं, जिनका सख्ती से पालन किया जाएगा. आपको बता दें कि मार्च के बाद से महाराष्ट्र के मंदिर बंद थे, इन बंद मंदिरों के खिलाफ बीजेपी और हिंदू दलों ने उद्धव सरकार के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जिसके बाद अब मंदिर खोल दिए गए हैं.