हरियाणा सरकार की मुख्य गतिविधियां एवं समाचार मातृभूमि संदेश न्यूज के साथ एक ही स्थान पर।


चंडीगढ़, 12 नवंबर-बी डी कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश न्यूज। राज्य चौकसी ब्यूरो द्वारा चलाए जा रहे अभियान के अंतर्गत भ्रष्टाचार के दो मामलों में संलिप्त अधिकारियों व ठेकेदारों से कुल 40,94,443 रुपये की वूसली कर भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया गया है।

ब्यूरो के एक प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि पहले मामला, लाहौरिया चौक हिसार से डीसीएम गेट मिलीगेट हिसार तक हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड की सडक़ के निर्माण में निम्न स्तर की सामग्री इस्तेमाल करने से संबंधित है। इस मामले में ठेकेदार ने हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड के तत्कालीन कार्यकारी अभियंता, उपमंडल अभियंता व कनिष्ठ अभियंता के साथ मिलीभगत करके सरकार से 32,13,000 रुपये की ठगी की है। जिसके बाद सरकार द्वारा सम्बधित अधिकारियों से राशि वसूल करने सहित उपरोक्त अधिकारियों व ठेकेदारों के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता की धारा 406,409,418,467,468,471 और 120बी व भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धाराओं में अभियुक्त के खिलाफ मामला दर्ज करने के आदेश दिए हैं।

प्रवक्ता ने बताया कि दूसरे मामले में ब्यूरो द्वारा जांच में पाया गया कि पंचकूला के विभिन्न सैक्टरों में पुलों पर लोहे की चादरें व फ्रेम डालने, पुराने बस क्यू सेल्टरों को तोडऩे, वाहनों के लिए शैड बनवाने व स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत साइन बोर्ड लगवाने के कार्यों में सरकार को करीब 8,81,443 रुपये की वित्तीय हानि पहुंचाई है। जिसके बाद सरकार द्वारा सम्बधित अधिकारियों से राशि वसूल करने सहित नगर निगम, पंचकूला के 1 कार्यकारी अभियंता, 2 निगम अभियंताओं व 3 कनिष्ठ अभियंताओं की लापरवाही पाए जाने पर उनके विरुद्ध विभागीय कार्रवाई करने के आदेश दिए गए है।

चंडीगढ़, 12 नवंबर-बी डी कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश न्यूज। हरियाणा सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के अधीन आने वाले राज्य के सभी जिलों में पटाखों की बिक्री या बजाने व चलाने के लिए नैशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) के दिशा-निर्देशों को सख्ती से लागू करने के लिए जिला मैजिस्ट्रेटों, पुलिस अधीक्षकों व हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को निर्देश दिए हैं।

एक सरकारी प्रवक्ता ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि नैशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) से सटे जिलों में 9-10 नवंबर 2020 की मध्यरात्रि से 30 नवंबर-1 दिसंबर 2020 की मध्यरात्रि तक सभी प्रकार के पटाखों की बिक्री या बजाने व चलाने के लिए पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाने का फैसला किया हुआ है।

उन्होंने बताया कि नैशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने यह भी निर्देश दिए हैं कि जिन शहरों या कस्बों में वायु की गुणवत्ता निर्धारित आंकड़े से ‘मध्यम’ या ‘नीचे’ है, वहां पर केवल हरे रंग के पटाखे बेचे जा सकते हैं। उन्होंने आगे बताया कि संबंधित राज्य द्वारा निर्दिष्ट दीवाली, छठ, नया साल, क्रिसमस जैसे त्योहारों के दौरान पटाखे बजाने व चलाने का समय दो घंटे तक प्रतिबंधित किए जाने के निर्देश हैं। उन्होंने बताया कि उक्त निर्देशों को सख्ती से लागू करने के संबंध में हरियाणा के मुख्य सचिव व जिला उपायुक्तों द्वारा पहले ही विस्तृत रूप से आदेश दिए जा चुके हैं।

चण्डीगढ़, 12 नवम्बर- बी डी कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश न्यूज। हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने अधिकारियों को मेवात क्षेत्र में शिक्षा व पानी की जरूरतों को प्राथमिकता के आधार पर पूरा करने के निर्देश दिए हैं । इसके अलावा, उन्होंने मेवात क्षेत्र में अध्यापकों की कमी को पूरा करने तथा मेवात विकास प्राधिकरण के अधीन 8 मेवात मॉडल स्कूलों को शिक्षा विभाग के अधीन करने को कहा है ताकि क्षेत्र में शिक्षा के स्तर को सुधारा जा सके।

मुख्यमंत्री आज यहां हरियाणा सिविल सचिवालय में मेवात विकास बोर्ड की 30वीं बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में हरियाणा के उप मुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चौटाला एवं हरियाणा के अनुसूचित जाति एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री डॉ. बनवारी लाल के अलावा नूंह जिले के सभी विधायक भी उपस्थित थे।

बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि जब तक मेवात कैडर में नियमित अध्यापकों की भर्ती पूरी नहीं की जाती तब तक सेवानिवृत्त अध्यापकों के साथ-साथ सक्षम पोर्टल पर शिक्षित युवाओं का पंजीकरण करवाकर उनसे अध्यापन का कार्य करवाया जाए।

श्री मनोहर लाल ने शिक्षा व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जो कार्य विभाग अपने स्तर पर कर सकता है उन कार्यों को मेवात विकास बोर्ड की कार्यसूची में शामिल नहीं करना चाहिए। उन्होंने मेवात विकास बोर्ड के साथ-साथ पूरे प्रदेश को जल जीवन मिशन के तहत मिलने वाले बजट में से भी सबसे ज्यादा बजट मेवात जिले में खर्च करने के निर्देश दिए।

इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने मैपिंग कर शैक्षणिक संस्थानों को अपग्रेड करने को कहा है ताकि मेवात जिले के युवाओं को उच्चतर शिक्षा के प्रति प्रेरित किया जा सके। साथ ही, उन्होंने खानपुर घाटी में गर्ल्स हॉस्टल को भी दोबारा शुरू करने के निर्देश दिए हैं ताकि वहां पढने वाली छात्राओं का ड्रॉप-आऊट कम हो सके।

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश में खोले गए 5 आतिथ्य प्रबंधन संस्थानों में मेवात के छात्रों के लिए फीस कम रखी जाए तथा उन्हें शिक्षा के लिए सब्सिडी प्रदान की जाए।

उन्होंने ड्राइविंग लाइसेंस रिन्यू करवाने के मामले पर कहा कि जिस किसी व्यक्ति का सारथी-पोर्टल पर पंजीकरण होगा उसे एक महीने की शर्त पूरी करने के साथ ही रिन्यू कर दिया जाना चाहिए। भारी वाहनों के लाइसेंस के बारे में उन्होंने कहा कि इसके लिए 3 शर्तें पूरी करना अनिवार्य होगा जिसमें व्यक्ति का पढ़ा लिखा होना, लाइट व्हिकल का लाइसेंस होना तथा हरियाणा रोडवेज में ट्रेनिंग अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि लाइसेंस के लिए ट्रेनिंग किसी भी जिले में ली जा सकती हैं।

बैठक में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल को अवगत करवाया गया कि 332 सरकारी मिडल, हाई, सीनियर सैकेण्डरी स्कूल, केजीबीवी, मेवात मॉडल स्कूल और एसएचकेएम मेडिकल कॉलेज,नल्हड़ और सामान्य अस्पताल, माण्डीखेड़ा, नूहं में भी छात्राओं को प्रतिवर्ष 100 सैनेटरी नेपकीन मुफ्त उपलब्ध करवाए जाएंगे।

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि मेवात विकास बोर्ड के पदाधिकारी आगामी एक माह में मेवात क्षेत्र में शुरू की जा सकने वाली नई योजनाओं बारे अपनी-अपनी राय दें ताकि क्षेत्र का अतिरिक्त विकास करवाया जा सके।

राजस्व विभाग के वितायुक्त श्री संजीव कौशल ने बैठक की एजेंडे पर प्रस्तुतिकरण दिया।

बैठक में मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव श्री डी एस ढेसी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री वी उमाशंकर, मुख्यमंत्री की उप प्रधान सचिव श्रीमती आशिमा बराड के अलावा विभिन्न विभागों के प्रशासनिक सचिव, मेवात विकास बोर्ड के सरकारी एवं गैर-सरकारी सदस्य उपस्थित थे।

चंडीगढ़, 12 नवंबर- बी डी कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश। हरियाणा सरकार ने दो डिप्टी डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी के तबादला और नियुक्ति आदेश जारी किए हैं।

न्याय प्रशासन विभाग द्वारा जारी आदेशों के अनुसार निदेशक, खान एवं भूविज्ञान विभाग, हरियाणा के कार्यालय में डिप्टी डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी प्रदीप कुमार को निदेशक, हरियाणा पुलिस अकादमी, मधुबन के कार्यालय में नियुक्त किया गया है।

प्रमुख अभियंता, लोक निर्माण (भवन एवं सड़कें) विभाग, हरियाणा, चंडीगढ़ के कार्यालय में डिप्टी डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी कुलदीप सिंह को निदेशक, खान एवं भूविज्ञान विभाग, हरियाणा के कार्यालय का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है।

चंडीगढ़, 12 नवंबर-। बी डी कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश न्यूज। चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय,हिसार के सायना नेहवाल कृषि प्रौद्योगिकी प्रशिक्षण एवं शिक्षण संस्थान के सह-निदेशक डॉ. अशोक गोदारा कहा कि बेरोजगार युवा मधुमक्खी पालन को अपनाकर अपना खुद का रोजगार शुरू कर सकते हैं। इसके अलावा किसान खेती के साथ-साथ मधुमक्खी पालन को सहयोगी व्यवसाय के रूप में अपनाकर अपनी आमदनी में इजाफा कर सकते हैं।

डॉ. गोदारा आज संस्थान की ओर से मधुमक्खी पालन विषय पर आयोजित तीन दिवसीय ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम के शुभारंभ अवसर पर प्रशिक्षणार्थियों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने प्रशिक्षणार्थियों से आह्वान किया कि वे प्रशिक्षण से प्राप्त ज्ञान से लघु स्तर पर मधुमक्खी पालन व्यवसाय शुरू करके अपनी आय में बढ़ोतरी कर सकते हैं।

कीट विज्ञान विभाग के सहायक निदेशक डॉ. भूपेन्द्र सिंह ने बताया कि मधुमक्खी परागकण क्रिया द्वारा फसल की पैदावार बढ़ाने में भी सहायक होते हैं। इस व्यवसाय को वे लोग भी शुरू कर सकते हैं, जिनके पास जमीन का अभाव है या फिर जमीन नहीं है। उन्होंने बताया कि सर्दी के मौसम में मधुमक्खी पालन अधिक मुनाफा देता है क्योंकि इस समय फसल पर फूलों की संख्या बहुत अधिक होती है जो मधुमक्खी को शहद बनाने के लिए जरूरी होते हैं। उन्होंने मधुमक्खियों की विभिन्न प्रजातियों के बारे में जानकारी दी तथा उनके जीवन चक्र और कार्यप्रणाली के बारे में बताते हुए कहा कि मधुमक्खी पालन से शहद के अतिरिक्त अन्य पदार्थ जैसे मोम, प्रोपोलिस पराग, रायल जैली इत्यादि मिलते हैं। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रदेश के विभिन्न जिलों सहित अन्य प्रदेशों के 40 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया।

चंडीगढ़, 12 नवंबर- बी डी कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश न्यूज। हरियाणा के सभी सरकारी महाविद्यालयों में चालू नवंबर-दिसंबर माह में रैडक्रॉस की सहायता से रक्तदान शिविरों का आयोजन किया जाएगा।

इस बारे में जानकारी देते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि हरियाणा के उच्चतर शिक्षा विभाग के महानिदेशक की ओर से राज्य के सभी सरकारी महाविद्यालयों के प्राचार्यों को निर्देश जारी किए गए हैं कि प्रत्येक जिला के सरकारी महाविद्यालय के प्राचार्य अपने-अपने जिला में स्थित रैडक्रॉस सोसायटी से संपर्क स्थापित कर रक्तदान शिविर आयोजित करें। उन्होंने बताया कि वे रैडक्रॉस सोसायटी को अपने महाविद्यालय के रक्तदाताओं की अनुमानित संख्या बताकर रक्तदान शिविर की तैयारी के लिए प्रयोग किए जाने वाले संसाधनों व वित्तीय खर्च का बजट बनाएं, इसकी एक कॉपी विभाग के मुख्यालय में भी 19 नवंबर 2020 तक भिजवानी है।

चंडीगढ़, 12 नवंबर- बी डी कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश न्यूज। हरियाणा के सभी सरकारी विश्वविद्यालयों के अलावा सरकारी, एडिड एवं प्राइवेट महाविद्यालयों की स्नातक कक्षाओं में ऑनलाइन दाखिला के लिए अंतिम तिथि 14 नवंबर से बढ़ाकर 20 नवंबर 2020 तक कर दी है।

हरियाणा के उच्चतर शिक्षा विभाग के प्रवक्ता ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि विभाग के महानिदेशक की ओर से उक्त संबंध में राज्य के सभी सरकारी विश्वविद्यालयों के रजिस्ट्रार तथा सरकारी, एडिड एवं प्राइवेट महाविद्यालयों के प्राचार्यों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं।