हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल 27 अक्टूबर, 2020 को आईएमटी फरीदाबाद में दो प्रमुख परियोजनाओं का उद्घाटन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से करेंगे।

चंडीगढ़, 26 अक्टूबर-।बी डी कौशिक मुख्य संपादक मातृभूमि संदेश न्यूज।    हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल 27 अक्टूबर, 2020 को आईएमटी फरीदाबाद में दो प्रमुख परियोजनाओं का उद्घाटन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से करेंगे। इन परियोजनाओं में आईएमटी फरीदाबाद में हरियाणा राज्य औद्योगिक और बुनियादी ढांचा विकास निगम (एचएसआईआईडीसी) के एकीकृत कार्यालय परिसर और साथ ही फायर स्टेशन को प्रभावी सेवाओं के लिए जनता को समर्पित किया जाएगा।इस अवसर पर केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्य मंत्री श्री कृष्णपाल गुर्जर के साथ हरियाणा सरकार के अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहेंगे। उप मुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चैटाला, परिवहन मंत्री श्री मूलचंद शर्मा, पृथला के विधायक और हरियाणा वेयरहाउसिंग कॉर्पोरेशन के अध्यक्ष श्री नयन पाल रावत,उद्योग विभाग के प्रधान सचिव श्री अपूर्व कुमार सिंह, एचएसआईआईडीसी के प्रबंध निदेशक श्री अनुराग अग्रवाल, के अलावा फरीदाबाद के उपायुक्त  और निगम के वरिष्ठ अधिकारी भी उद्घाटन समारोह में भाग लेंगे।

       निगम के प्रबंध निदेशक श्री अनुराग अग्रवाल ने बताया कि आईएमटी फरीदाबाद कार्यालय परिसर 8351.85 वर्गमीटर क्षेत्र में बनाया गया है, जिसमें 2112.72 वर्गमीटर फ्लोर एरिया है। यह कार्यालय भवन आईएमटी फरीदाबाद के उद्योगों के लिए उनके घर-द्वार पर सेवाएं लेकर आएगा, जिसकी कुल अनुमानित लागत 708.59 लाख रुपए है।श्र अग्रवाल ने बताया कि सभी औद्योगिक संपदाओं में अग्निशमन सेवाओं का प्रावधान करना अत्यंत आवश्यक है, इसलिए एक फायर स्टेशन बनाया गया है, जिसे आईएमटी फरीदाबाद के उद्योगों को समर्पित किया जा रहा है। फायर स्टेशन को संचालन के लिए जिला प्रशासन, फरीदाबाद को सौंप दिया जाएगा। इस फायर स्टेशन की पूंजी लागत लगभग 459.75 लाख रुपए है। यह 1719 वर्गमीटर के फ्लोर एरिया के साथ 7080 वर्गमीटर के कुल क्षेत्र पर बनाया गया है। उन्होंने बताया कि आईएमटी फरीदाबाद लगभग 1784 एकड़ क्षेत्र में फैला है, जो अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से लगभग 44 किलोमीटर की दूरी पर दिल्ली-आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग (एनएच-44) पर स्थित है। आईएमटी फरीदाबाद को एचएसआईआईडीसी द्वारा अंतर्राष्ट्रीय मानक बुनियादी ढांचे के साथ एक एकीकृत मॉडल टाउनशिप के रूप में विकसित किया गया है और इसने बड़ी संख्या में प्रतिष्ठित कंपनियों जैसे कि मेसर्स आईओसीएल, मैसर्स अमूल डेयरी, मैसर्स ग्लेन, मैसर्स पॉली मैडिक्योर केंद्रीय खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला आदि को आकर्षित किया है और उन्होंने इस टाउनशिप में अपना विनिर्माण आधार स्थापित किया है। इसमें सभी आवश्यक सुविधाएं जैसे फायर स्टेशन, पुलिस स्टेशन, ईएसआई डिस्पेंसरी, नर्सिंग होम, दूरसंचार केंद्र, प्रयोगशालाएं इत्यादि स्थित हैं। यह औद्योगिक टाउनशिप उत्तर भारत की औद्योगिक आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए सावधानीपूर्वक बनाया गया है । यह बहुराष्ट्रीय कंपनियों के लिए उत्प्रेरक के रूप में काम करेगा और हरियाणा राज्य में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश भी लाएगा। आईएमटी में कुल 220 औद्योगिक भूखंड़ और 1800 आर एंड आर भूखंड काटे गए हैं। यहां लगभग 250 इकाइयों में पहले से ही उत्पादन शुरू हो चुका है।माल और यात्री कनेक्टिविटी के लिए, एक बड़ी रेल लाइन फरीदाबाद से गुजरती है जो इसे कश्मीर से कन्याकुमारी तक और अन्य मार्गों से जोड़ती है। इसके अलावा केजीपी एक्सप्रेस-वे आईएमटी फरीदाबाद से 8 किलोमीटर की दूरी से गुजरती है। दिल्ली से गुजरात के लिए एक नया राष्ट्रीय राजमार्ग बनाया जा रहा है जो आईएमटी, फरीदाबाद से गुजरता है। एक रेलवे फ्रेट कॉरिडोर निर्माणाधीन है जो आईएमटी फरीदाबाद से लगभग 500 मीटर पर है।